किसानों ने नहीं खोलने दी बैंक, 1 सप्ताह में राशि मिलने के आश्वासन पर माने

0
495

फसल बीमा की राशि की मांग को लेकर किसानों ने बैंक की शटर नहीं खुलने दी।

कब,क्या हुआ

सुबह 10:30 बजे- खेड़ी गांव के किसान बैंक पहुंचे।बैंक के स्टाफ ने शटर का ताला खोला ही था कि किसानों ने शटर ऊंची करने से रोक दिया। उनका कहना था कि जब तक उनकी बीमा राशि के बारे में कोई ठोस बात नहीं होगी, वे शटर ऊंची नहीं करने देंगे। 10.35 बजे- बैंक प्रबंधन की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

11:15 बजे- आपसी बातचीत के बाद किसानों ने शटर खोलने दी। बैंक का कामकाज शुरू हुआ।

बोड़ा के किसानों का पचोर में पंजीयन होगा

बोड़ा | सोसाइटी में किसानों के पंजीयन में परेशानियां आ रही है। किसानों की मांग पर विधायक गिरीश भंडारी ने शुक्रवार को राजगढ़ में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा से मिलकर किसानों का पंजीयन पचोर में भी करवाने की व्यवस्था की।

हमें स्थानीय प्रबंधन परेशान कर रहा है

एक महीना पहले हमारे गांव के हम किसान नर्मदा झाबुआ ग्रामीण बैंक में अपनी फसल बीमा की राशि के लिए पहुंचे। बैंक प्रबंधन ने बताया कि अभी राशि कहीं नहीं आई है। इस दौरान दूसरे बैंकों में किसानों के खातों में राशि आनी शुरू हो गई थी। बैंक प्रबंधन ने हमें 10 दिन बाद आने के लिए कहा। हम 10 दिन बाद पहुंचे। तब भी हमें राशि नहीं दी गई और हमसे कहा कि अगर किसी और बैंक में किसानों के खाते में राशि आ गई है तो प्रमाण लेकर आओ। हम प्रमाण लेकर भी पहुंचे लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। इसके बाद हम ने शुक्रवार को बैंक की शटर नहीं खोलने दी। अब हमें गुरुवार तक राशि देने का बैंक ने वादा किया है। – राधेश्याम चौधरी, किसान, ग्राम खेड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here