कृषि मंडी में आज से 20 तक होंगे भावांतर के पंजीयन

0
396

भावांतर भुगतान योजना के अंतर्गत कृषि उपज मंडी में खरीफ की फसलों का पंजीयन शुक्रवार से शुरू होगा। मंडी अध्यक्ष कैलाशपुरी गोस्वामी ने बताया खरीफ की धान, ज्वार, बाजरा, मक्का, सोयाबीन, अरहर, कपास, मूंग, मूंगफली, तिल, रामतिल, उड़द आदि फसलों के पंजीयन का कार्य शासन के ऑनलाइन पोर्टल पर शुरू किए जा रहे हैं। इसमें किसानों की ऋण पुस्तिका, किसान का बैंक खाता, आधार कार्ड, परिवार सदस्य आईडी एवं किसान का मोबाइल नंबर आदि आवश्यक दस्तावेज के लेकर पंजीयन करा सकते हैं। मंडी सचिव आश्विन सिन्हा ने बताया शासन द्वारा 20 सितंबर तक पंजीयन कार्य किया जाएगा। मंडी अध्यक्ष गोस्वामी व सचिव सिन्हा ने क्षेत्र के किसानों से आवश्यक दस्तावेज लेकर पंजीयन केंद्र पर उपस्थित होकर समय पर अनिवार्य रूप से अपनी फसल का पंजीयन कराने का अनुरोध किया।

इन केंद्रों पर होगा पंजीयन कार्य

किसानों की सुविधा के लिए कृषि मंडी सहित 8 नवीन पंजीयन केंद्र बनाए गए है। जिनमें सेवा सहकारी संस्था जगोटी, धाराखेड़ा, आक्याधागा, सगवाली, बोलखेड़ानाउ, इंदौख, लोटिया जुनार्दा शामिल हैं। सहायक आपूर्ति अधिकारी सुनील वर्मा ने बताया कि मंडी में जहां शुक्रवार से पंजीयन कार्य शुरू हो जाएगा। वहीं अन्य केंद्रों पर मेपिंग व तकनीकी पूर्णता की जा रही है। जल्द ही इन केंद्रों पर शुरू होगा।

8 केंद्र बढ़ाए, किसानों को मिलेगी सुविधा

तहसील में पंजीयन केंद्र की संख्या कम होने से किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। मंडी अध्यक्ष गोस्वामी द्वारा जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर पंजीयन केंद्र बढ़ाने की मांग की थी। इस पर कलेक्टर ने तहसील में 8 नवीन पंजीयन केंद्र बढ़ा दिए हैं। इससे किसानों को पंजीयन कार्य में सुविधा मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here