सोयाबीन की फसल में मोजेक और सफेद मक्खी के प्रकोप की आशंका

0
549

सोयाबीन की फसल में पीला मोजेक तथा सफेद मक्खी का प्रकोप के लक्षण जिले व तहसील में कुछ स्थानों पर देखने में आ रहे हैं। स्थानीय कृषि विभाग द्वारा क्षेत्र के कृषकों को सजग करते हुए बचाव के संबंध में जानकारी दी जा रही है। विकासखंड तकनीकी प्रबंधक (कृषि) दयाराम चांदना ने बताया कि क्षेत्र में इसके प्रकोप होने की आशंका है। किसान इसकी रोकथाम के लिए एसीटामा प्रीड़ 25 ग्राम प्रति पंप (टंकी) 15 लिटर पानी में या एमीडाक्लोरो प्रीड 10 एमएल एवं टेबुकोनोजोल 20 एमएल तथा तरल सल्फर 30 एमएल, स्ट्रोप्टो साइकिलिंग 2 ग्राम प्रति टंकी के हिसाब से प्रति बीघा 3 टंकी का छिड़काव करें। साथ ही फसल का सतत अवलोकन करते रहें। पत्तों मे मक्खी के प्रकोप लक्षण तथा प्रभाव। सावन खत्म, अब भादौ से आस क्षेत्र में मानसून की बेरुखी देखने को मिल रही है। पूरा सावन बीत चुका है और अभी तक केवल 14 इंच वर्षा ही हो पाई है। जबकि गत वर्ष 17 इंच बारिश हो चुकी थी। ऐसे में अब भादौ से ही उम्मीद बनी हुई है। हालांकि सावन में हुई रिमझिम से फसलों को फायदा मिलने के साथ जल स्तर भी बढ़ा है। फिर भी जलाशय, तालाब आदि सूखे पड़े हंै।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here