MP – सोयाबीन निर्यात के रास्ते निकालने फिर प्रधानमंत्री से मिलेंगे मुख्यमंत्री

0
817

भोपाल। प्रदेश सरकार सोयाबीन और उससे बने उत्पाद को निर्यात करने का रास्ता निकालने के लिए हर स्तर पर कोशिश करेगी। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। साथ ही सोयाबीन बांग्लादेश को निर्यात करने के लिए राज्य को रेल की रैक उपलब्ध कराने केंद्रीय रेल मंत्री, विदेश मंत्री सहित अन्य संबंधित केंद्रीय मंत्रियों से भी जल्दी ही मुलाकात करेंगे।

यह भरोसा सोयाबीन प्रोसेसर्स एसोशिएशन ऑफ इंडिया (सोपा) के प्रतिनिधिमंडल को मुख्यमंत्री ने सोमवार को स्टेट हैंगर पर हुई मुलाकात में दिया। सोपा ने उन्हें इंदौर में होने वाले सोयामील एवं सोयाबीन निर्यातक व आयातकों के सम्मेलन में शामिल होने का आमत्रंण भी दिया।

सोपा के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को बताया कि विश्व में 1260 लाख मीट्रिक टन सोयाबीन का आयात होता है। इसमें चीन 950 लाख मीट्रिक टन, यूरोपियन यूनियन 172 लाख मीट्रिक टन और जापान 60 लाख मीट्रिक टन सोयाबीन आयात करते हैं।

मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि किसानों को उनकी फसल का बेहतर मूल्य दिलाने के लिए हर संभव कोशिश की जाएगी। चीन में सोयाबीन के निर्यात की संभावनाएं बढ़ाने को लेकर प्रधानमंत्री, वाणिज्य मंत्री और विदेश मंत्री के साथ चर्चा की गई है। एक बार फिर प्रधानमंत्री से सोयाबीन निर्यात प्रोत्साहन को लेकर बात करेंगे।

बांग्लादेश में सोयाबीन के निर्यात के लिए रेलवे से राज्य को रैक उपलब्ध करवाने के लिए केंद्रीय रेल मंत्री से बात करेंगे। केंद्र सरकार द्वारा चीन, जापान और यूरोपियन यूनियन में भेजे जाने वाले प्रतिनिधिमंडल में मध्यप्रदेश के प्रतिनिधिमंडल शामिल करवाया जाएगा। राज्य सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर मंत्री को भी भेजेंगे।

बैठक के दौरान मुख्य सचिव बीपी सिंह, अपर मुख्य सचिव पीसी मीणा, प्रमुख सचिव कृषि डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव वाणिज्य एवं उद्योग मोहम्मद सुलेमान, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अशोक बर्णवाल, एसके मिश्रा और विवेक अग्रवाल के साथ सोपा के प्रतिनिधि डंविस जैन, बासु टी. बड़वला, गिरीश मतलानी और डीएन पाठक भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here