1.20 लाख किसान करा चुके हैं पंजीयन, इनमें 82 हजार सिर्फ उड़द के लिए

0
203

Sep 29, 2018

पंजीयन कराने में सागर जिला प्रदेश में सबसे आगे

सागर 
खरीफ सीजन की उपज समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए अब तक जिले के 1.20 लाख किसान पंजीयन करा चुके हैं। यह अब तक की स्थिति में प्रदेश में सागर जिला पहले नंबर पर है। उज्जैन, बालाघाट, छिंदवाड़ा, राजगढ़, मंदसौर और विदिशा पंजीयन में सागर से पीछे हैं। अंतिम तारीख 29 सितंबर है। ऐसे में यह संख्या और भी ज्यादा बढ़ सकती है।

सबसे ज्यादा 80 हजार किसान ऐसे हैं, जिन्होंने अपना पंजीयन उड़द बेचने के लिए कराया है। सोयाबीन के लिए 60 हजार किसानों ने पंजीयन कराया है। हालांकि कई किसान इनमें से ऐसे भी हैं, जिन्होंने दोनों ही फसलों के लिए अपना पंजीयन कराया है। मूंग के लिए 4084 और धान के लिए 2210 किसानों ने अपना पंजीयन कराया है। को आपरेटिव बैंक के सीईओ डीके राय ने बताया कि अभी पंजीयन कार्य चल रहा है।

विभिन्न फसलों के लिए यह है पंजीयन की स्थिति

सोयाबीन 60 हजार , उड़द 80 हजार , धान 2210, तुअर 3170 , मूंग 3048, मक्का 881, मूंगफली 262, तिल 166, ज्वार 89, बाजरा 10।

किसानों के पास 29 सितंबर तक का समय

एक ही किसान ने यदि दो जगह पंजीयन कराया है तो उसका पंजीयन में अलग-अलग रिकॉर्ड है, लेकिन कुल किसान संख्या में उसकी संख्या एक ही मानी जाएगी। कई किसान ऐसे हैं, जिन्होंने सोयाबीन और उड़द दोनों में पंजीयन कराया है। समर्थन मूल्य पर उपज बेचने किसानों के पास 29 सितंबर तक पंजीयन कराने का मौका है। वे अंतिम तारीख तक भी पंजीयन करा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here