116 गांवों में 47 हजार हेक्टेयर में होगी सिंचाई

0
179

ठीकरी | Oct 09, 2018

खरगोन व बड़वानी जिले के 116 गांवों के किसानों को सिंचाई की सुविधा मिलेगी। दोनों जिलों में 47 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी। एनवीडीए अफसरों के मुताबिक नागलवाड़ी उद्ववहन सिंचाई परियोजना का वर्क आर्डर जारी हो गया है। वहीं टेंडर भी हो गए हैं। अभी ड्राइंग व डिजाइन का काम जारी है, जो 20 अक्टूबर तक पूरा होगा।

नंदगांव से पानी लिफ्ट कर खेतों तक पहुंचाया जाएगा। परियोजना पर 949.55 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सूत्रों की माने तो करीब एक साल पहले सरकार ने इस परियोजनों को मंजूरी दी थी। परियोजना को दो साल के भीतर पूरा कराने का लक्ष्य रखा है। फिलहाल जिले में इंदिरा सागर व लोअर गोई परियोजना की नहरों का निर्माण कार्य भी जारी है।

योजना से दोनों जिले में इतने गांव होंगे लाभान्वित

उद्वहन सिंचाई परियोजना से खरगोन जिले के 70 और बड़वानी जिले के 46 गांवों में 47 हजार हेक्टेयर में सिंचाई हो सकेगी। खरगोन जिले की सेगांव तहसील, खरगोन व बड़वानी जिले की राजपुर, ठीकरी व सेंधवा तहसील के गांवों को परियोजना में शामिल किया है। एनवीडीए के डिवीजन नंबर 14 के ईई सीबी टटवाल ने बताया ड्राइंग व डिजाइन का काम 20 अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा। उन्होंने बताया ब्राह्मणगांव के पास नंदगांव से प्रति सेकंड 15 हजार लीटर पानी लिफ्ट किया जाएगा।

नहरों का निर्माण जारी

जिले में इंदिरा सागर व लोअर गोई परियोजना की नहरों का निर्माण भी जारी है। हालांकि काम ज्यादा नहीं बचा है। ठीकरी व बड़वानी में इंदिरा सागर की नहरों से सिंचाई शुरू हो गई है। लोअर गोई परियोजना के तहत 13760 हेक्टेयर में सिंचाई होगी। 27.555 किमी की मुख्य नहर, 221 किमी उपनहर बनाई जाएगी। इस परियोजना से 46 गांवों के 8760 किसान लाभान्वित होंगे। इसी तरह इंदिरा सागर परियोजना की नहराें से बड़वानी, राजपुर व ठीकरी में हजारों हेक्टेयर में फसलों की सिंचाई होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here