13 हजार 410 किसानों के खाते में डाले 45 करोड़ 52 लाख रु., खाते में नहीं पहुंची राशि

0
120

Sep 29, 2018

जिलेभर के 13 हजार 410 किसानों को प्याज पर 400 रुपए प्रति क्विंटल और लहसुन के लिए 800 रुपए प्रति क्विंटल की दर से कृषक समृद्धि योजना के तहत राशि शुक्रवार को जारी की है। किसानों के खाते में आरटीजीएस के माध्यम से राशि डाली है। देर शाम तक सर्वर डाउन होने से किसानों के खाते में यह राशि नहीं पहुंची है।

जिलेभर के 13 हजार 410 किसानों ने उपज मंडियों में बेची थी। 6 हजार 828 किसानों ने 6लाख 86 हजार 303.13 क्विंटल प्याज बेचे थे। इन्हें 27 करोड़ 45 लाख 21 हजार 186 रुपए की राशि डाली है। इसी तरह 6 हजार 582 किसानों द्वारा 2 लाख 24 हजार 700 क्विंटल लहसुन बेची थी। इनके खाते में 17 करोड़ 97 लाख 60 हजार 077 रुपए डाले गए हैं। शुक्रवार को डाली गई यह राशि किसानों के खाते में देर शाम तक नहीं पहुंची है। किसान चुन्नीलाल ने बताया कि चार माह बाद राशि मिलने की उम्मीद जागी थी, लेकिन शुक्रवार देर शाम उनके खाते में यह राशि नहीं आई है। जबकि विभाग ने किसानों के खाते में राशि डालने का दावा किया है।

प्याज का 400 और लहसुन का 800 रु. क्विंटल के हिसाब से दिया भुगतान

जिले के 303 किसानों को मिली उपज बेचने की राशि

इस साल जिलेभर के 13 हजार 713 किसानों ने किसान समृद्धि योजना के तहत प्याज व लहसुन की उपज बेची थी। इसमें से 13 हजार 410 किसानों को ही यह राशि डाली गई है। उपसंचालक श्री राजपूत ने बताया कि कुछ किसानों के गलत खाते होने के साथ ही कुछ ने शाजापुर के शुजालपुर मंडी में उपज बेची थी। इसलिए प्याज बेचने वाले 109 और लहसुन बेचने वाले 194 किसानों को फिलहाल यह राशि जारी नहीं की जाएगी। इसके लिए शासन स्तर से मार्गदर्शन मांगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here