आज तेज बारिश के आसार, 70 % सोयाबीन कटी, पानी गिरा तो खुले में पड़ी फसल सड़ेगी

0
176

शाजापुर | Oct 04, 2018

मानसून विदा होने के बाद भी बुधवार को शहर में मौसम के दो रंग दिखे। सुबह से धूप में तेज रही। नतीजतन दोपहर 3 बजे ही तापमान 37.4 डिग्री पहुंच गया। तपाने वाली धूप से बचने के लिए कई लोग दोपहर में छतरी लगाकर सड़कों से गुजरते दिखे। इधर, शाम 4 बजे बाद अचानक घने बादल छा गए। 4.30 बजे से हल्की बूंदाबांदी शुरू हो गई। वातावरण में बारिश के लिए सहायक मानी जाने वाली दक्षिण-पश्चिमी हवा 6 किमी की गति से चली। सुबह-शाम क्रमश: 72 व 58 फीसदी आर्द्रता रही। रात होने तक रुक-रुककर हल्की बूंदाबांदी का सिलसिला जारी था। अगर तेज बारिश होती है तो किसानों के लिए परेशानी है, क्योंकि 70 फीसदी फसल कट चुकी है और काफी मात्रा में खेतों में पड़ी है। इधर, मौसम विशेषज्ञ सत्येंद्र धनोतिया ने बताया बुधवार को मौसम फिर बदला है। सिस्टम के आखिरी दौर के बादलों की टुकडिय़ां गर्मी ज्यादा होने से सक्रिय हुई हैं। गुरुवार को तेज बारिश के भी आसार हैं।

8 बजे हुई बारिश

कानड़ | दिन में तेज धूप और गर्मी के बाद बुधवार शाम को अचानक मौसम बदल गया। शुरू में हल्की बूंदाबांदी हुई, लेकिन इसके बाद रात करीब 8 बजे तेज बारिश शुरू हो गई। इससे शहर की सड़कों से पानी बह निकला और मौसम में ठंडक घुल गई। आज भी बारिश होने के आसार हैं।

37.4 डिग्री तपी दोपहर, शाम 5 बजे 1.2 डिग्री गिरा पारा

कृषि वैज्ञानिक बोले- नुकसान के साथ फायदा भी, शुरू हो सकती है चने की बोवनी

वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. जी.आर. अम्बावतिया का कहना है फिलहाल सोयाबीन कटाई का काम चल रहा है। 25-30 प्रतिशत फसल अभी बची है। यदि तेज बारिश हुई से इस फसल को कुछ नुकसान हो सकता है। यदि ज्यादा समय तक बारिश हुई तो सोयाबीन दागी होने का डर रहेगा। हालांकी अगली रबी फसल के लिए यह बारिश फायदेमंद है। जिन किसानो ने सोयाबीन फसल काट ली है। वे रबी इसी बारिश की आल में ही रबी की बुलाई कर सकते है। चने का रकबा भी बढ़ने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here