अधिकारी नहीं मिले तो नारेबाजी कर नाराज किसानों ने तहसील में चस्पा किया ज्ञापन

0
132

टिमरनी | Sep 16, 2018

शनिवार को भारतीय किसान संघ तहसील इकाई ने बलराम जयंती पर कृषि उपज मंडी के कृषक विश्राम गृह में कार्यक्रम आयोजित किया। भगवान बलराम के पूजन के बाद किसान बाइक रैली के साथ तहसील कार्यालय पहुंचे। लेकिन उनका ज्ञापन लेने के लिए कोई अधिकारी मौजूद नहीं था। नाराज किसानों ने नारेबाजी कर तहसील कार्यालय में ज्ञापन चस्पा कर दिया।

जानकारी के अनुसार भाकिसं को दोपहर 3 बजे तहसीलदार को ज्ञापन देना था, लेकिन तहसील कार्यालय में तहसीलदार अल्का एक्का नहीं मिलीं। साथ ही अन्य कोई अधिकारी भी ज्ञापन लेने नहीं आया। इसके विरोध में भाकिसं ने तहसीलदार अल्का एक्का के कार्यालय में उनकी नेम प्लेट के पास किसानों की समस्याओं से संबंधित प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन चस्पा कर दिया।

इन समस्याओं को दूर करने दिया ज्ञापन

ज्ञापन में सात सूत्रीय समस्याओं को दूर करने की मांग की। इसमें किसानों को फसल की लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य देने, फसल बीमा योजना में किसान के खेत को इकाई मानने, समस्याओं पर समग्र विचार-विमर्श के लिए संसद का विशेष सत्र बुलाने, ग्राम पंचायत से किसानों को मजदूर उपलब्ध कराने, मेक इंडिया, स्टार्टअप आदि के तहत गांव के युवाओं को फूड प्रोसेसिंग की ट्रेनिंग देकर आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराने, पशुपालन, जैविक उत्पाद, जैव ईंधन के लिए योजना बनाने सहित अन्य मांगें शामिल हैं। ज्ञापन सौंपते समय जिला संगठन मंत्री भगवानदास गौर, मध्यप्रांत मंत्री नरेंद्र दोगने, तहसील प्रभारी विजय मलगाया, राधेश्याम पाटिल, महेश पटेल, रेवाशंकर पटेल, रेवाशंकर दोगने, परमानंद दोगने, संतोष चौहान सहित अन्य मौजूद थे।

टिमरनी। तहसील कार्यालय में नारेबाजी कर ज्ञापन चस्पा करते किसान।

भाकिसं ने की कृषि फसल बीमा की विसंगति दूर करने की मांग

खिरकिया| भारतीय किसान संघ ने शनिवार को कृषि उपज मंडी स्थित कृषक विश्राम भवन में बैठक आयोजित की। इसमें भगवान बलराम की जयंती मनाते हुए पूजन किया।

इस दौरान पदाधिकारियों ने विभिन्न मांगों को लेकर प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन एसडीएम वीपी यादव को सौंपा। जिसमें प्रधानमंत्री कृषि फसल बीमा की विसंगति दूर कर प्रत्येक किसान को दावा राशि देने सहित अन्य मांगे शामिल हैं। इस दौरान किसान संघ के तहसील अध्यक्ष कैलाश गुर्जर, तहसील प्रभारी यशवंतसिंह राजपूत, जिला उपाध्यक्ष चिरोंजीलाल विश्नोई, मुकेश गौर, रूपसिंह राजपूत, मोहनलाल विश्नोई सहित अन्य मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here