गन्ने की फसल चौपट कर रहे भालू, किसान परेशान

0
132

गौरेला Oct 09, 2018

भालू अब गन्ने की फसल में भी आने लगे हैं और बड़े पैमाने पर गन्ने को चौपट कर रहे हैं। मामला लालपुर का है, जहां बोधन सिंह राठौर के खेतों में लगे गन्ने का रस चूसने भालू रोज पहुंच रहे हैं।

दो से तीन की संख्या में ग्राम खंता से आने वाले इन भालुओं ने खेतों में लगे गन्नों को बीच-बीच से रस चूसकर गिरा रहे हैं। इससे फसल बर्बाद हो रही है। इससे बोधन सिंह और उनके बेटे रोहित, मोहित राठौर व अन्य किसान जीवन राठौर परेशान हैं। बोधन ने बताया कि भालुओं की फसल चौपट करने की शिकायत वह अतिरिक्त कलेक्टर, एसडीएम, अनुविभागीय अधिकारी कृषि विभाग व डीएफओ मरवाही वनमंडल से 14 सितंबर को की थी, लेकिन विभाग की ओर से अब तक कार्रवाई नहीं की गई।

इससे उसे भालुओं से फसल को बचाने अपने परिवार के साथ खेत की मेड़ पर आग जलाकर रतजगा करना पड़ रहा है। इसमें भालुओं से जान का खतरा भी बना रहता है। इन किसानों का यह भी कहना है कि नियमानुसार शिकायत करने पर अधिकारी सुन नहीं रहे हैं और भालुओं से फसल को बचाने हम कानून को हाथ में नहीं ले सकते।

स्टाफ को भेजकर मामले की जानकारी ली जाएगी

इस संबंध में मरवाही वनमंडल के डीएफओ पी मातेश्वरन से चर्चा की गई तो उन्होंने कहा कि मैं स्टाफ भेजकर इसके बारे में पता करवाता हूं।

साढ़े 6 एकड़ में लगी फसल

किसान बोधन सिंह के बेटे रोहित राठौर ने बताया गन्ने की खेती करते उसे यह तीसरा साल है, जिसकी शुरुआत उसने एक एकड़ से की थी। आज साढ़े छह एकड़ के कुल उन्नीस खेतों में गन्ने की फसल लगाई है, जिसका बीज वह कृषि विभाग की सलाह पर अंबिकापुर और पंडरिया से लेकर आया था। इसमें उसे तीस हजार की लागत आई है एक ओर सरकार किसानों को प्रोत्साहित करने का भरोसा दिलाती है तो दूसरी ओर इस तरह उनकी फसल का हो रहे नुकसान पर जवाबदार अधिकारी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here