नहर बदहाल, नहीं पहुंच रहा पानी, 1000 एकड़ में बोर से मुफ्त पानी दे रहे किसान

0
149

कोडार | Oct 08, 2018

कोडार के अंतिम एरिया भलेसर में पानी नहीं पहुंचा तो किसानों ने विभागीय अफसरों से मदद मांगी। किसानों ने कहा कि यदि बदहाल नहर का फिलहाल अस्थायी मेंटनेंस कर दिया जाए तो उनकी फसल बच सकती हैं। जब अफसरों ने उनकी मांग पर ध्यान नहीं दिया तो संपन्न किसानों ने नई पहल शुरू की।

एेसे किसान जिनके खेतों में बोर है उन्होंने सहयोग करते हुए दूसरे किसानों के खेतों में अपने ट्यूबवेल से पानी देना शुरू किया है। बलेसर गांव के माता देवाला खार, दादर खार में इस साल धान का रकबा 1000 एकड़ है। पिछले 15 दिनों से बारिश नहीं होने के कारण खेत सूख चुके है। इन क्षेत्रों में फसल के लिए संपन्न किसान निशुल्क पानी दे रहे हैं।

गांव में किसानों ने लिया निर्णय: दर्जनों किसान कलेक्टोरेट आए थे। वे नहर की मरम्मत करने की मांग कर रहे थे। लेकिन कोई मदद नहीं मिली तो गांव में किसानों ने आपस में बैठक कर निर्णय लिया कि फसल को बचाने के लिए आपसी सहयोग से पानी दिया जाए। इस पर सभी राजी हुए।

महासमुंद| बोर के माध्यम से अन्य खेतों तक पानी पहुंचाने के लिए पाइपलाइन बिछाई है।

गांव के 30 किसान दूसरे के खेतों में पानी दे रहे

गांव के किसान भगवत, गणेश, सुशील, कमलेश के स्वयं खेती करते हैं इनके खेत में ट्यूबवेल हैं जिसमें से अपने खेतों के साथ तकरीबन 150 एकड़ अन्य किसानों के फसल के लिए पानी दिया जा रहा है। इस प्रकार गांव के अन्य किसानों द्वारा भी अपने बोर की क्षमता के अनुसार अन्य और आसपास के किसानों को पानी दे रहे हैं।

रबी फसल के लिए पानी खरीद कर करते हैं खेती

गर्मी के दिनों में इस क्षेत्र के किसानों को खेती करने के लिए पानी खरीदना पड़ता है। टेल एरिया होने के कारण गर्मी के दिनों में किसानों को और अधिक परेशानी का सामना करना पड़ता है। गर्मी के समय प्रति एकड़ 4 हजार रुपए की दर से सिंचाई के लिए पानी खरीदते हैं।

…इसलिए नहीं पहुंच रहा आखिरी गांवों तक पानी

क्षेत्र में नहर का पानी नहीं पहुंचने की मुख्य वजह नहर का जगह-जगह से बदहाल और टूटा होना है। परकोल, मचेवा, बरोंडाबाजार , परसट्‌टी सहित कई गांवों से गुजरने वाली नहर कई स्थानों से टूट चुकी है। इससे पानी बेकार बह जाता है। कोडार के गेट खोले गए है लेकिन आवश्यकता से कम पानी मिलने के कारण बीच के कई किसानों ने बदहाल नहर को और फोड़कर पानी ले लिया।

टेल एरिया बड़गांव में पानी पहुंचा, किसानों को राहत

किसानों के आक्रोश और चक्काजाम की चेतावनी के बाद जल संसाधन विभाग हरकत में आया और रविवार की सुबह जब बड़गांव के टेल एरिया में पानी पहुंचा तो किसानों ने राहत की सांस ली है। जल संसाधन विभाग ने किसानों की मांग को गंभीरता से लेते हुए कोडार से छोड़े जाने वाले पानी की मात्रा में वृद्धि की है।

तीन दिन पहले कलेक्टोरेट में की थी शिकायत

तीन दिन पहले पानी न पहुंचने की शिकायत कर चुके अछरीडीह, बड़गांव और नयापारा के किसानों की मांग पूरी नहीं होने पर आक्रोशित होकर किसान शनिवार को कलेक्टोरेट पहुंचे थे। डिप्टी कलेक्टर शिवकुमार तिवारी के निर्देश पर जल संसाधन विभाग के ईई को किसानों की समस्या को गंभीरता से लेने अौर सुबह तक हर हाल में पानी पहुंचाने का निर्देश दिया था। निर्देश के तहत सुबह किसानों के खेत तक पानी पहुंच गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here