चुनाव बहिष्कार नहीं तो क्षेत्र से ही उतारेंगे प्रतिनिधि हाथी प्रभावित गांव के किसान

0
95

सिरपुर | Sep 28, 2018

क्षेत्र के हाथी प्रभावित गांव किसानों की अहम बैठक 1 अक्टूबर को पिरदा में आयोजित की गई है। बैठक में हाथी की समस्या का स्थाई समाधान नहीं होने पर मतदान बहिष्कार और क्षेत्र से ही प्रतिनिधि चुनाव मैदान में उतारने जैसे मुद्दों पर भी चर्चा की जाएगी।

बैठक में सिरपुर इलाके के 47 हाथी प्रभावित गांव के अलावा, पिथौरा, बसना, गरियाबंद और आरंग के किसानों को आमंत्रित किया गया है, जो हाथी प्रभावित क्षेत्र में आते हैं। हाथी भगाओ, फसल बचाओ समिति के संयोजक राधेलाल सिन्हा ने बताया कि इस बैठक के लिए समिति की ओर से तैयारी शुरू कर दी गई है। बैठक का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है और इसमें बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित होकर सरकार को अपनी ताकत दिखाएंगे। बैठक में विभिन्न विषयों पर चर्चा होगी। इसके बाद सरकार को अल्टीमेटम दिया जाएगा। यदि हमारी मांगे पूरी नहीं होती तो चुनाव बहिष्कार या फिर क्षेत्र से विधानसभा चुनाव के लिए प्रतिनिधि उतारने जैसी रणनीति तैयार की जाएगी।

सर्चिंग तो छोड़िए टार्च और मिट्‌टी तेल भी नहीं दे पा रहा वन विभाग : समिति के मनराखन ठाकुर, रमाकांत ध्रुव, अमजद खान, नरेश पटेल, मोहन चंद्राकर, नन्दलाल सिन्हा ने कहा कि हाथी प्रभावित क्षेत्रों में सर्चिंग तो दूर की बात है, सूचना देने के बाद भी वन विभाग की टीम नहीं आती। यही नहीं प्रभावित गांव में सुरक्षा के लिए हाथी मित्र दल को टार्च और मशाल जलाने के लिए मिट्‌टी तेल देने की बात हुई थी, लेकिन यह अब तक पूरी नहीं हुई।

इन मांगों को लेकर बनेगी रणनीति

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here