धान खरीदी में गड़बड़ी रोकने खरीदी केंद्र का निरीक्षण

0
171

जशपुर नगर Nov 29, 2018

धान खरीदी शुरू होते ही क्षेत्र के सभी धान उपार्जन केन्द्र में अधिकारियों का दौरा शुरू हो गया है। इसी कड़ी में आज पत्थलगांव सहकारिता विस्तार अधिकारी नारायण सोनी ने पत्थलगांव धान उपार्जन केन्द्र का निरीक्षण किया। सहकारिता विस्तार अधिकारी द्वारा धान बेचने आये किसानों का टोकन, ऋण पुस्तिका, आधार कार्ड की जांच की।

शासन द्वारा 1 नवंबर से धान खरीदी शुरू कर दी गई थी। सहकारिता अधिकारी द्वारा क्षेत्र के सभी सहकारी समितियों का निरीक्षण किया जा रहा है। बुधवार को पत्थलगांव सहित किलकिला, केराकछार का निरीक्षण किया गया। सहकारिता अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार अभी पत्थलगांव में 3230 क्विंटल,किलकिला 2400 क्विंटल,केराकछार 1954 क्विंटल, तमता 1984.11 क्विंटल, लुडेग 952 क्विंटल, बागबहार 987 क्विंटल एवं कोतबा 282 क्विंटल धान की खरीदी हुई है। सहकारिता विस्तार अधिकारी ने बताया कि इस बार बिचैलियों समितियों में धान न बेच सके,इस लिए हर समितियों में सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है। विचैलियों पर विभाग की पैनी नजर बनी हुइ है।

खाद्य विभाग एवं सहकारिता विभाग द्वारा हर समितियों का औचक निरीक्षण किया जा रहा है।

खरीदी केन्द्र का निरीक्षण करते अधिकारी

संवेदनशील जगहों पर पैनी नजर

धान उपार्जन केन्द्र में होने वाली गड़बड़ी को रोकने के लिए इस बार प्रशासन ने काफी प्रबंध कर रखे है। पिछले वर्ष यहां के लुडे़ग धान उपार्जन केन्द्र में धान खरीदी के दौरान करोड़ाें रुपए का घोटाला उजागर हुआ था। इस घटना के बाद अब प्रशासन सचेत नजर आ रहा है। इनके द्वारा प्रबंधक व बिचौलियों पर खास नजर रखी जा रही है,जिससे दूसरे राज्य या दलालों का धान उपार्जन केन्द्र में ना पहुंच सके। यहां के अधिकारियों की माने तो प्रत्येक धान उपार्जन केन्द्र में सीसीटीवी कैमरे के जरिए किसान व बिचौलियों को पहचानने का काम किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here