6 महीने में 650 में से 200 किसानों को ही मिला सोलर पंप, सिंचाई में हो रही दिक्कत

0
132

महासमुंद Oct 20, 2018

खेतों में सिंचाई के लिए विद्युत सुविधा से वंचित सैकड़ों किसान सोलर पंप लगाने के लिए तो उत्साहित हैं, लेकिन विभाग के अधिकारियों की उदासीनता के चलते 650 में मात्र 200 किसानों के खेत में सोलर पंप लग पाया है। सौर सुजला योजना में रुचि दिखाते हुए यहां के किसानों ने 6 माह पहले से ही सोलर पंप के आवेदन के साथ सभी औपचारिकता पूरी कर ली है। इसके बाद भी इन किसानों के आवेदनों को जांच के नाम पर अब तक लंबित रख देने से लगभग 400 किसानों को सौर सुजला योजना का लाभ नहीं मिल पाया है। विभिन्न गांवों में आयोजित जन समस्या निवारण शिविरों के दौरान सौर सुजला योजना की जानकारी मिलने के बाद 650 किसानों ने सोलर पंप के लिए विभाग के पास आवेदन जमा किए हैं। इन किसानों ने भी सभी औपचारिकता पूरी करने के बाद भी उन्हें सोलर पंप के लिए इंतजार करना पड़ रहा है। वहीं क्रेडा विभाग के सहायक अभियंता एमएस गायकवाड का कहना है कि साैर सुजला योजना के तहत 200 पंप स्थापित किए जा चुके है। नवंबर में सभी जगहाें पर पंप लगा लिया जाएगा।

नवंबर तक टारगेट पूरा करने का प्रयास : क्रेडा अधिकारी के अनुसार 200 सोलर पंप लग चुके है। 400 पंप का फाउंडेशन भी तैयार किया जा चुका है। नवंबर 2018 तक पंप लगाने का कार्य पूर्ण हो जाएगी। जिले में करीब एक लाख किसान है और कुल कृषि भूमि रकबे का महज 25-30 प्रतिशत ही सिंचित है। अधिकतर किसानों का कृषि रकबा अब भी मानसून के भरोसे है। यहां बारिश नहीं तो फसल नहीं।

महासमुंद| पानी की कमी के चलते इस तरह मुरझा रही फसल।

वर्ष लक्ष्य पंप स्थापित

2016 17 500 – 958

2017 18 750 -1180

2018 19 500 -200

क्रेडा का पोर्टल हुआ बंद

सोलर पंप के लिए करीब 150 आवेदन अभी पेंडिंग है। ये आवेदन कृषि विभाग को मिले थे, जिन पर आवश्यक जांच परीक्षण कर कृषि विभाग ने क्रेडा जिला कार्यालय को भेज दिया है, लेकिन इन आवेदनों को आॅनलाइन एंट्री कर मंजूरी लेने की प्रक्रिया अभी नहीं हो पाई है। बताया जाता है कि क्रेडा का ऑनलाइन पोर्टल अभी बंद है।

500 सोलर पंप लगाने का लक्ष्य तो योजना के शुरूआती साल 2016-17 में ही मिला था, जबकि उस साल 958 सोलर पंप लगाए गए थे। 2017-18 में 1180 सोलर पंप लगाए जा चुके है।

अब तक कुल 2138 सोलर पंप लगाए जा चुके हैं

इस तरह परेशान हो रहे किसान…

6 महीने पहले आवेदन लेकिन अभी तक नहीं लगा: किसान

भिथीडीह के किसान रामेश्वर साहू का कहना है कि वे 6 महीने पहले आवेदन की पूरी प्रक्रिया पूर्ण कर ली है लेकिन सोलर पंप अभी तक नहीं लगाए है। सोलर पंप के लिए आवेदन देने के कारण से वे बिजली विभाग में आवेदन नहीं दे पा रहे है।

खिरसाली में धान की फसल मुरझाने के कगार पर

खिरसाली के किसान धनीराम ध्रुव का कहना है कि आवेदन देने के बावजूद अभी तक नहीं लग पाया है। मौसम की बेरूखी के कारण खेत सूख रहे है। सोलर पंप मिलेगा करके बिजली विभाग में आवेदन नहीं दिया है। खेत मुरझाने के कगार पर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here