47 करोड़ की धान खरीदी पर 4 दिन बाद भी किसानों के खाते में नहीं पहुंची रकम

0
43

राजनाँदगाँव Dec 05, 2019

समर्थन मूल्य पर 1 दिसंबर से धान की खरीदी तो शुरू हो गई है पर विडंबना है कि चार दिन के बाद भी किसानों के खाते में एक फूटी कौड़ी नहीं डाली गई है। किसान रोज बैंक के चक्कर लगाने मजबूर हो गए हैं। अफसरों ने दावा किया था कि इस बार प्रधानमंत्री फाइनेंशियल सिस्टम के तहत सीधे किसानों के खाते में पैसा पहुंच जाएगा पर इस नए ट्रांजेक्शन सिस्टम में ट्रायल के दौरान ही बार-बार तकनीकी दिक्कतें आने की वजह से धान बेचने के बाद भी किसानों की जेब खाली है। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के सीईओ का कहना है कि पीएमएफएस सिस्टम के माध्यम से एक-दो दिन के भीतर किसानों के खाते में सीधे पैसे पहुंच जाएंगे। इस बार किसानों को बैंक और सोसाइटी के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।

जिले के 117 खरीदी केन्द्रों के माध्यम से सरकार ने जिले के ढाई हजार किसानों से चार दिन के भीतर 99 हजार 752 क्विंटल से अधिक धान खरीदा है। इसकी कीमत 47 करोड़ रुपए से ज्यादा है। इतनी राशि किसानों के खाते में जानी है पर चार दिन बाद भी पैसा नहीं आने से किसान चिंता में हैं। पैसे के इंतजार में किसान बार-बार अपने मोबाइल का मैसेज देख रहे हैं।


राजनांदगांव. भर्रेगांव खरीदी केन्द्र में भी सीमित किसानों को ही टोकन जारी कर धान खरीदा जा रहा है।

दिनभर चला ट्रायल, दिक्कत भी आई

इस बार पीएमएफएस सिस्टम के माध्यम से किसानों के खाते में पैसे भेजने की तैयारी चल रही है। पहले ब्रांच को फंड जारी किया जाता था। ब्रांच के माध्यम से पैसा सोसाइटी के खाते में जाता था फिर यहीं से किसानों के खाते में ट्रांसफर किया जाता था पर अब पीएमएफएस सिस्टम का इस्तेमाल कर एक ही बार किसानों तक पैसा पहुंचाया जाएगा। अफसरों ने बताया कि इस सिस्टम को शुरू करने के लिए बुधवार को दिनभर ट्रायल किया गया पर बार-बार तकनीकी दिक्कतें आईं। इससे खाते में पैसा नहीं डाला गया।


किसानों को टोकन दे रही समिति

इधर सोसाइटी प्रबंधक उच्चस्तर का आदेश बताकर एक दिन में सिर्फ 11-12 टोकन ही जारी कर रहे हैं। इसके पीछे बारदानों की कमी को कारण बताया जा रहा है, क्योंकि केन्द्रों में सिर्फ 15 दिन का बारदाना भेजा गया है। ज्यादा किसानों को टोकन जारी हो जाएगा तो खरीदी में अव्यवस्था हो जाएगी। वहीं उच्चस्तर से बारदाने की आपूर्ति डिमांड के अनुसार भी नहीं हो रही है। इधर किसानों को अफसरों ने बताया कि खाते में पैसा आते ही उनके मोबइल पर मैसेज भी आएगा।

आंदोलन की तैयारी आज जुटेंगे किसान

धान खरीदी की अव्यवस्था, रकबा की कटौती, समर्थन मूल्य व बोनस के मुद्दे पर जिला किसान संघ 14 दिसंबर को आंदोलन की तैयारी में है। संघ के प्रमुख सुदेश टीकम ने बताया कि गुरुवार को किसान संघ के प्रतिनिधि सहकारी बैंक के सामने एकत्रित होंगे। यहीं से आंदोलन की घोषणा होगी। एसडीएम से आंदोलन की अनुमति मांगी जाएगी। बताया कि 14 दिसंबर को सभा के बाद शहर में रैली निकालने की तैयारी है। टीकम ने बताया कि किसान संघ ने ढाबा, भानपुरी, तुमड़ीबोड सहित अन्य खरीदी केन्द्रों का जायजा लिया जहां पर सन्नाटा पसरा था, क्योंकि टोकन ही गिनती के बांट रहे हैं।

ट्रायल चल रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here