दलावदा के किसान 4 माह से ट्रांसफार्मर के लिए लगा रहे चक्कर

0
136

Oct 16, 2018

नीमच

बिजली वितरण कंपनी द्वारा 6 महीने पहले दलावदा गांव में एक किसान का बिल बकाया होने पर ट्रांसफार्मर उतारकर जमा कर लिया था। इसके बाद किसान कार्यालय के चक्कर लगा रहे है। उन्हें अधिकारी सुनने को तैयार नहीं है। रबी फसल की सिंचाई में किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

दलावदा में 1 ट्रांसफार्मर से 12 किसानों के खेतों में बिजली सप्लाई की जा रही थी। इनमें से एक किसान द्वारा बिजली बिल का भुगतान नहीं करने पर कंपनी के कर्मचारी ट्रांसफार्मर ही जब्त करके ले गए। इसके बाद 11 किसान कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं। सोमवार को बिजली कंपनी कार्यालय आए गांव के मुकेश गुर्जर, गणेश गुर्जर ने कहा कि जिस पर बकाया राशि है अधिकारी उससे वसूली करें। जिन्होंने समय पर राशि जमा कर दी उनको इसकी सजा क्यों दी जा रही है। दीपावली बाद रबी फसल की सिंचाई के लिए बिजली की आवश्यकता होगी। ऐसे में समय पर ट्रांसफार्मर नहीं लगाया तो सिंचाई काम प्रभावित होगा।

1 किसान पर 1 लाख रुपए का बिल बकाया

ग्रामीणों ने बताया कि ट्रांसफार्मर से पहले पांच किसानों के स्थाई कनेक्शन थे। कंपनी के अधिकारियों ने इससे 7 अन्य किसानों को अस्थाई कनेक्शन दे दिए। एक किसान पर एक लाख रुपए से अधिक का बिल बकाया है। जिसका प्रकरण न्यायालय में चल रहा है। विभाग से 100 केवीए का ट्रांसफार्मर मांग रहे हैं। अधिकारी 25 केवीए का ट्रांसफार्मर दे रहे हैं। इससे फसल सिंचाई में लोड बढ़ने पर यह जल जाएगा और किसानों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ेगा।

ट्रांसफार्मर के लिए बिजली कार्यालय के बाहर ट्रांसफार्मर लेने के लिए पहुंचे किसान।

10.48 करोड़ रुपए की वसूली बाकी

बिजली विभाग के डीई महेंद्र मेढ़ा ने कहा कि नीमच डिवीजन में 16720 सिंचाई कनेक्शनों के बिल जारी किए हैं। इनसे 10.48 करोड़ की वसूली होना है। किसानों को नियमानुसार ट्रांसफार्मर दिए जाएंगे। दलावदा में 4 स्थाई कनेक्शननधारी 20 हार्सपावर का ही उपयोग हैं। ऐसे में वहां 25 केवीए का ट्रांसफार्मर दिया जा सकता है। अस्थाई कनेक्श के लिए किसान शुल्क जमा करें। मांग अनुसार निर्णय लिया जाएगा। बकाया बिल वाले किसान राशि जमा करें तो नियमानुसार उचित निर्णय लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here