सूख रही फसल, सिंचाई के लिए छोड़ें पानी

0
174

17 Oct 2018

धमतरी

वनांचल नगरी ब्लॉक के कई क्षेत्रों में सिंचाई पानी की कमी के चलते धान की तैयार हो रही फसल सूखने लगी है। ऐसे में किसानों को फसल के सूखने का खतरा दिख रहा है। किसानों ने सोंढूर बांध से पानी छोड़ने की मांग की है।

नगरी ब्लॉक के बेलरगांव,बनोरा, डोमपदर, नवागांव सहित अन्य गांव में इस साल बड़े पैमाने पर खरीफ फसल के रूप में धान की बुआई की गई है। तैयार हो रही फसल को पर्याप्त पानी नहीं मिल पाया है। जिससे वर्तमान में धान की तैयार हो रही फसल सूखने लगी है। मौसम में उष्णता बढ़ने के साथ तेजी के साथ खेतों में जमा पानी भी सूखने लगा है। यदि तैयार ही रही फसल को जल्द पानी नहीं मिलता है तो धान की फसल सूखकर मर जाएगी।

किसानों ने बताया कि सिंचाई विभाग में बार-बार मांग करने के बाद भी अब तक सोंढूर बांध से पानी नहीं छोड़ा गया है। विभाग के अधिकारी केवल आश्वासन दे रहे हैं। यदि जल्दी पानी नहीं छोड़ा जाता है तो फसल सूख जाएगी।

ऐसे में मजबूरन सिंचाई विभाग के खिलाफ प्रदर्शन करना पड़ेगा। मालूम हो कि नगरी ब्लॉक के कि 250 हेक्टेयर क्षेत्र में सोंढूर बांध से सिंचाई होती है। वर्तमान में लगभग 250 से अधिक खेतों में तैयार हो रही धान की फसल सूख रही है। मांग करने वालों में शिवलाल निषाद, मनोहर निषाद, राजू मरकाम, डुमेश्वर, भारती, अश्वनी साहू, भानु नेताम, ललित देवांगन, शत्रुघन साहू,जोहान मरकाम, भूषण साहू सहित अन्य ग्रामीण शामिल हैं। इस संबंध में सिंचाई विभाग के एसडीओ यदु ने बताया कि सोंढूर बांध से 10 दिनों से खेतों में नहर के माध्यम से सिंचाई पानी जा रहा है। कुछ किसानों का खेत उपरी क्षेत्र में है, इस कारण खेतों तक लेट से पानी पहुंच रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here