दो साल से मुआवजा नहीं मिलने से किसानों ने घेरा एसडीएम दफ्तर

0
343

Oct 02, 2018

करगीरोड कोटा 

दो साल से मुआवजा नहीं मिलने से परेशान किसानों ने कोटा एसडीएम दफ्तर का घेराव करने पहुंचे। उन्होंने ज्ञापन सौंपकर महीने भर के भीतर भुगतान करने की मांग की है। साथ ही भुगतान नहीं होने पर भूख हड़ताल पर बैठने की चेतावनी भी दी है। एडीबी सड़क निर्माण में भूमि अधिग्रहण का मुआवजा नहीं मिलने से परेशान किसानों ने करगी रोड कोटा स्थित एसडीएम ऑफिस का घेराव कर दिया। इस संबंध में उन्होंने ज्ञापन भी सौंपा है।

गौरतलब है कि कि रतनपुर से लोरमी तक बनने वाली सड़क के लिए किसानों की जमीन का अधिग्रहण किया गया था। इस सड़क का निर्माण 136 करोड़ की लागत से एशियन डेवलपमेंट कारपोरेशन के माध्यम से कराया जा रहा है। सड़क निर्माणकार्य में अधिकृत की गई जमीन का मुआवजा अब तक प्रभावित किसानों को नहीं मिला है। इससे किसानों को आथिक परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसके कारण मुआवजा नहीं मिलने से नाराज किसान एसडीएम कार्यालय का घेराव करने पहुंचे गए। आंदोलन में कांग्रेसी नेता संतोष मिश्रा के साथ आजाद युवा संगठन के प्रमुख इशहाक कुरेशी, शिव साहू, राधेश्याम साहू के अलावा सभी बड़ी संख्या में किसान शामिल रहे।

6 फरवरी को पूर्व एसडीएम ने मुआवजा दिलाने आश्वासन दिए थे

किसान पिछले 2 साल से मुआवजे के लिए ऑफिस में अधिकारियों का चक्कर काट-काटकर परेशान हो चुके थे। 6 फरवरी को प्रभावित किसान मुआवजा की मांग को लेकर चक्काजाम करने की तैयारी में थे। पूर्व एसडीएम देवेंद्र पटेल ने एएडीबी के इंजीनियर और पूर्व कोटा टीआई के माध्यम से किसानों से बातचीत की। इस दौरान किसानों को जल्द मुआवजा देने के लिए आश्वासन दिया था।

दो महीने के भीतर मिल जाएगा मुआवजा:एसडीएम

एसडीएम ने किसानों को होने वाली परेशानी को देखते हुए कहा कि दो महीने के भीतर मुआवजे की राशि मिल जाएगी। उन्होंने अपने कर्मचारियों को मौके पर आदेश दिया कि इन प्रभावितों का मुआवजा प्रकरण तैयार कर वितरण करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here