किसान अब किसी भी बैंक के एटीएम से केसीसी की राशि निकाल सकेंगे

0
235

 

किसान अब किसी भी बैंक के एटीएम से केसीसी की राशि निकाल सकेंगे, जिले की 24 सहकारी बैंक शाखाओं के खाताधारकों को मिलेगी सुविधा

Oct 03, 2018

जिला सहकारी बैंक ने किसानों को केसीसी की राशि निकालने के लिए एक नई सुविधा दी है। जिले के करीब 1 लाख 10 हजार खाताधारकों में से 90 हजार को रुपे कार्ड दे दिया है। इससे वे किसी भी बैंक के एटीएम से लोन की राशि निकाल सकेंगे। फसल बीमा, मुआवजा, समर्थन मूल्य पर बेची उपज, बोनस या भावांतर की राशि बैंक से निकालने के लिए भी अब किसानों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। इसके लिए जल्द ही जिले के किसानों को अपडेट कर दिया जाएगा।

जिला सहकारी बैंक शाजापुर में 90 प्रतिशत किसानों के खाते हैं। अब बैंक किसान खाता धारकों को भी ई-बैंकिंग की सुविधा देने की तैयारी में है। इसके लिए पहल शुरू हो चुकी है। जिले की सभी 24 बैंक शाखा कोर बैंकिंग होने के बाद अब सीसीबी ने अन्य बैंकों की तर्ज पर अपने ग्राहकों को एटीएम से रुपए निकालने की सुविधा शुरू की है। हालांकि इसकी शुरुआत अभी सिर्फ केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) के तहत स्वीकृत लोन की राशि निकालने के लिए की गई है। इसके लिए शाजापुर बैंक ने पहले चरण में 25 हजार किसानों पर प्रयोग करने का मन बनाया है।

खुद के पास मशीन नहीं

सीसीबी की जिलेभर में 24 बैंक शाखाएं हैं। साथ ही 146 सोसायटियां हैं। इनके माध्यम से करीब 1 लाख 10 किसानों के खाते संचालित होते हैं। फिलहाल बैंक के पास एक भी अपनी एटीएम मशीन नहीं है। बावजूद रुपे कार्ड जारी कर बैंक ने अपने खाताधारक किसानों के लिए अच्छी पहल शुरू कर दी है।

समर्थन मूल्य और भावांतर के साथ बीमा-मुआवजा राशि भी निकाल सकेंगे

सीसीबी के सीईओ डी.आर. सराेठिया ने बताया कि 90 हजार खाताधारक किसानों को रुपे कार्ड दे दिए गए हैं। इससे उन्हें लोन की राशि निकालने में काफी सहूलियत मिलेगी। एटीएम कार्ड देने की योजना भी चल रही है। यह कार्ड खाताधारकों की मांग पर ही उन्हें दिया जाएगा। एटीएम मिलने के बाद समर्थन मूल्य, भावांतर, बीमा, मुआवजा आदि के तहत उनके खाते में जमा होने वाली राशि वे कहीं से भी निकाल सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here