सोयाबीन का निर्यात किसानों के हित में

0
128

इंदौर | Sep 25, 2018

अनेक सोया प्लांटों की आर्थिक स्थिति कमजोर हो गई है। कुछ प्लांट नीलामी चले गए हैं। मप्र का किसान सोयाबीन का मोह नहीं छोड़ पा रहे हैं। अत: सोयाबीन निर्यात की योजना बनाना चाहिए। यह जरूरी नहीं है कि डीओसी का ही निर्यात हो। सोयाबीन की फसल में देरी से आने के बाद वायदों में मंदी ला दी। खाद्य तेलों के कामकाज सुस्त रहा। केएलसीई 19 मायनस बंद रही। लोकल में सोया तेल 740 से 741 रुपए बोले गए। प्लांटों में सोया तेल कालापीपल 738 अवि एग्रो शांति ओव्हरसीज अवि एग्रो विप्पी 740 महाकाली बजरंग 741 धानुका 736 मंदसौर 737 इंदौर पाम 720 रुपए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here