आवारा मवेशी फसलों में नुकसान न कर सकें, इसलिए खेतों की होगी फेंसिंग, 400 एकड़ में तालाब भी बनेंगे

0
149

कोंडागांव| Sep 18, 2018

केशकाल ब्लाक के आदिवासी बहुल ग्राम चुरेगांव में आने वाले दिनों में किसानों को खेती में आ रही समस्याओं को दूर किया जाएगा। गांव की 400 एकड़ जमीन पर छोटे-छोटे तालाब बनवाए जाएंगे ताकि किसान आसानी से मछलीपालन और फसलों की सिंचाई कर सकें। फसलों की सुरक्षा के लिए खेतों की फेंसिंग की जाएगी।

गांव में हुए जनसमस्या निवारण शिविर में सोमवार को कलेक्टर नीलकंठ टेकाम ने ग्रामीणों के सामने यह जानकारी देते हुए अफसरों से कहा कि वे काम शुरू करें। किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा दिलाया जाए। कलेक्टर ने ग्रामीणों को सलाह देते हुए कहा कि वे अपने-अपने गांव में हो रहे सड़क, पुल-पुलिया, भवन निर्माण की गुणवत्ता की निगरानी रख सकते है क्योंकि यह उनके मूलभूत बुनियादी आवश्यकता का प्रश्न है और इसमें किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता है।

वनों की कटाई हर स्तर पर रोकने उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि जल, जंगल, जमीन क्षेत्र की अमूल्य धरोहर है । इसके संरक्षण और संवर्धन से ही भावी पीढ़ी को सुरक्षित रखा जा सकता है। वनों से हमारी तमाम आवश्यकताएं पूरी होती हैं। वनों की अवैध कटाई को हर स्तर पर रोकें।

शिविर में इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मातलाम, पूर्व विधायक सेवक राम नेताम, वन समिति जिला अध्यक्ष केशकाल झाड़ीराम सलाम, एसडीओ धनंजय नेताम, सहायक आयुक्त जीएस सोरी, सीएमएचओ एसके कनवर, ईई केएस गर्ग, खाद्य नियंत्रक अनुराग भदौरिया सहित अन्य विभाग के अधिकारी एवं ग्रामीण बड़ी संख्या में मौजूद थे ।

32 में से 13 शिकायतों का मौके पर किया गया निपटारा

जनसमस्या निवारण शिविर में ग्रामीणों ने समस्या व शिकायतों को लेकर 32 आवेदन दिए । जिसमें से 13 आवेदनों का निराकरण मौके पर ही कर दिया गया । इसके बाद ग्रामीणों ने कलेक्टर से अन्य समस्याओं को जल्द दूर करने की बात कही। कलेक्टर ने भी आश्वासन दिया कि जल्द ही गांव की सभी समस्याओं को दूर कर दिया जाएगा। शिविर में करीब 6 गांवों के ग्रामीण शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here