श्योपुर के किसानों के खातों में कल आएगी 3.21 करोड़ प्रोत्साहन राशि

0
242

श्योपुर | Sep 27, 2018

जिले के किसानों को मुुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के तहत 3 करोड़ 21 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह राशि चना और सरसों उत्पादक किसानों को दी जा रही है। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 28 सितंबर को होशंगाबाद जिले में किसान सम्मेलन करने जा रहे हैं। खास बात यह है कि मुख्यमंत्री होशंगाबाद में बटन दबाएंगे और प्रोत्साहन राशि श्योपुर जिले के किसानों के बैंक खातों में ट्रांसफर हो जाएगी।

यहां बता दें कि इस साल सरकार ने चना और सरसों की फसल की सरकारी तौल कांटों पर समर्थन मूल्य पर खरीद की थी। इस दौरान श्योपुर जिले के करीब 11 हजार 88 किसानों ने चना और सरसों की फसल का विक्रय किया था। इन किसानों को सरकार ने 100 रुपये प्रति क्विंटल बोनस राशि के रूप में देने की घोषणा की थी। करीब पांच महीने से किसान बोनस राशि के इंतजार में थे। अब 28 सितंबर को किसानों को यह इंतजार तब खत्म हो जाएगा जब मुख्यमंत्री होशंगाबाद जिले की पिपरिया तहसील से सीधे किसानों के बैंक खातों में प्रोत्साहन राशि का वितरण करेंगे।

सिंगल क्लिक से बैंक खातों में पहुंचेंगी राशि, किसानों को एसएमएस से मिलेगी सूचना

मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना में पात्र पंजीकृत किसानों के सत्यापित बैंक खातों में 28 सितम्बर को प्रोत्साहन राशि सिंगल क्लिक से अंतरित की जाएगी। अंतरित प्रोत्साहन राशि के भुगतान की सूचना पात्र पंजीकृत किसान के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से तुरंत पहुंचेंगी। यह प्रोत्साहन राशि प्याज, लहसुन, चना, मसूर, सरसों, ग्रीष्मकालीन मूंग और ग्रीष्मकालीन उड़द की फसल के लिए दी जा रही है, लेकिन श्योपुर में किसानों ने सिर्फ चना और सरसों की फसल का ही उत्पादन किया है।

11 हजार 88 किसानों का किया जाएगा भुगतान

श्योपुर कृषि कल्याण विभाग के उप संचालक पी गुजरे ने बताया कि जिले के 11 हजार 88 किसानों को प्रोत्साहन राशि के रूप में 3 करोड़ 21 लाख रुपए का भुगतान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सभी किसानों के सत्यापित बैंक खातों की जानकारी कोषालय विभाग को भेज दी गई है। मुख्यमंत्री के पिपरिया में बटन दबाते ही यह राशि किसानों के बैंक खातों में पहुंच जाएगी। उन्होंने बताया कि सरकार ने इसके लिए पृथक से बजट आवंटित किया है।

श्योपुर में नहीं होगा जिला स्तरीय किसान सम्मेलन

खास बात यह है कि किसानों को प्रोत्साहन राशि वितरित करने के लिए प्रदेश के मंदसौर, नीमच और रतलाम को छोड़कर सभी जिलो में किसान सम्मेलन आयोजित करने के निर्देश प्रमुख सचिव किसान कल्याण तथा कृषि विकास डॉ. राजेश राजौरा द्वारा कलेक्टरों को पत्र भेजकर जारी किए गए हैं, लेकिन श्योपुर में भी किसान सम्मेलन आयोजित नहीं किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here