किसानों को फसल पैदा करने से ज्यादा परेशानी फसल बेचने में आती है : राणा

0
758

किसानों ने वाहन रैली में की नारेबाजी

राष्ट्रीय किसान संगठन के तत्वावधान में जिलास्तरीय किसान सम्मेलन के बाद शहर में वाहन रैली निकाली। मेला ग्राउंड से शुरू हुई वाहन रैली में शामिल किसानों ने जब तक दुखी किसान रहेगा, धरती पर तूफान रहेगा। हम अपना अधिकार मांगते नहीं किसी से भीख मांगते। अभी तो यह अंगडाई आगे और लड़ाई है, देश के हम भंडार भरेंगे लेकिन कीमत पूरी लेंगे, कौन बनाता हिंदुस्तान, भारत का मजदूर किसान जैसे नारे लगाए।

नदी में बहा रहे चंबल का पानी नहर में धान के लिए छोड़ो

वाहन रैली के साथ कलेक्टोरेट पहुंचे किसानों ने अपनी नौ सूत्रीय प्रमुख मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन कलेक्टर को दिया। किसान नेताओं ने कहा कि जिले में बारिश की कमी से धान की रोपणी पिछड़ रही है। कोटा बैराज से बारिश का अतिशेष पानी चंबल नदी में बहाने के बजाय चंबल नहर मे पानी छोड़ा जाए। समर्थन मूल्य पर चना और गेहूं बेचने वाले किसानों को भुगतान, गोपालपुरा में बिजली 220 केवीए सब स्टेशन का काम शुरू कराने, जमीन नामांतरण एवं बंटवारा के लिए सभी 5 तहसीलों में विशेष कैंप लगाए की मांग प्रमुखता से रखी गई है।

16 अगस्त तक होगा फसलों का बीमा

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा 16 अगस्त तक किया जाएगा। उप संचालक कृषि पी गुजरे ने बताया कि अधिसूचित फसलों और ऋणमान पर किसान को 2 प्रतिशत प्रीमियम जमा कराना होगा। यह योजना ऋणी कृषकों के लिये अनिवार्य एवं अऋणी किसानों के लिए स्वैच्छिक है। एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड भोपाल द्वारा फसल बीमा का कार्य किया जा रहा है । यदि किसान निर्धारित तिथि तक फसल का बीमा नहीं कराते हैं, तो उन्हें बीमा का लाभ नहीं मिल पाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here