खेती-किसानी : 26 हजार 500 हेक्टेयर में होगी गेहूं की बोवनी, 9 हजार 122 हेक्टेयर बढ़ा रकबा

0
130

बैतूल Nov 20, 2019

ब्लॉक के किसानों के खेतों के कुओं और ट्यूबवेल में इस साल पर्याप्त पानी है। जिससे पिछले साल की तुलना में इस बार गेहूं का रकबा 9 हजार 122 हैक्टेयर बढ़ जाएगा। वर्तमान में किसान बोवनी करने में जुटे हुए हैं। बुधवार को एसडीएम सीएल चनाप ने कृषि विभाग, मत्स्य विभाग, पशु पालन विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक निर्देश दिए।

एसडीएम चनाप ने कृषि विभाग के अधिकारियों को सभी सोसाइटियों में गेहूं, चना बीज का पर्याप्त स्टॉक रखने को कहा है। जिससे किसानों को बीज के लिए परेशान नहीं होना पड़े। यूरिया की कमी से परेशान हो रहे किसानों को जल्द खाद उपलब्ध कराने के निर्देश गोदाम प्रभारी को दिए। वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी अशोक पारधी ने बताया पिछले साल ब्लॉक में गेहूं का रकबा 17 हजार 378 हैक्टेयर था। इस साल 26 हजार 500 हैक्टेयर से अधिक में गेहूं की बोवनी होगी। पिछले साल चना 6 हजार 500 हैक्टेयर में बोया गया था। इस साल 7 हजार हैक्टेयर में बोवनी होगी। सोसाइटियों में यूरिया खाद नहीं मिलने से किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गोदाम प्रभारी अरुण गढ़ेकर ने बताया पूर्व में 140 टन यूरिया खाद उपलब्ध हुआ था। जिससे सोसाइटी में भेजा गया था। वर्तमान में 1 हजार टन यूरिया खाद की डिमांड भेजी गई है।

समितियों में पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है बीज

वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी अशोक पारधी ने बताया सभी समितियों में गेहूं और चना का बीज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। समितियों में जेजी 14 और जेजी 12 का बीज भंडारण किया है। जिसकी कीमत 6450 रुपए प्रति क्विंटल है। जिस पर 13 सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर से अनुदान प्रदान किया जा रहा है। गेहूं के बीज पर भी अनुदान दिया जा रहा है।

एसडीएम ने कृषि सहित अन्य विभाग प्रमुखों की बैठक लेकर दिए आवश्यक निर्देश।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here