अरब सागर से आ रही नमी में कमी, बढ़ेगी ठंड, टमाटर की फसल को होगा नुकसान

0
194

छतरपुर Nov 28, 2018

अरब सागर से मिल रही नमी का असर खत्म होने के बाद अब ठंड असर दिखाने लगी है। दिन और रात का तापमान मामूली उतार-चढ़ाव का दौर है। ऐसे में मंगलवार को अधिकतम तापमान 28.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 11.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। एक दिन पहले सोमवार को अधिकतम तापमान 28.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 11.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था।

मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में और तापमान कम होने का अनुमान जताया है। नोडल अधिकारी एके श्रीवास्तव ने बताया कि अरब सागर से नमी अब खत्म हो रही है। इससे बादल छंट गए हैं। दिन में तपन कम हो रही है तो रात में भी ठंड का असर बढ़ा है। ऐसे में मंगलवार को दिन में भी ठंड का अहसास हुआ। दिन का तापमान कम हो गया। उत्तर-पूर्व की ओर से हवाओं की रफ्तार 5 से 8 किमी प्रतिघंटे की रही। श्रीवास्तव के अनुसार आने वाले दिनों में नमी का असर कम होगा। इससे तापमान कम होने लगेगा। एक दो दिन में ठंड बढ़ेगी और तापमान में गिरावट होगी। मौसम विज्ञान विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार टीकमगढ़ जिले में आनेवाले 5 दिनों के दौरान मौसम आमतौर पर शुष्क तथा समान में आंशिक बादल छाए रहने की संभावना है। दिन के तापमान में 1-2 डिसे की गिरावट रहने तथा रात का तापमान 9-10 डिसे के आसपास रहने की संभावना है। आनेवाले 5 दिनों में न्यूनतम तापमान 9-10 डिसे के मध्य रहने की संभावना को ध्यान में रखते हुए, किसान फल एवं सब्जी फसलों में हल्की सिंचाई कर सकते हैं।

जल्द पकने वाली मटर की फसल बोएं किसान

किसान मटर की देर से पकने वाली जवाहर मटर 1 व 2 प्रजातियों की बुआई इस सप्ताह के दौरान पूरा कर सकते हैं। बोवनी से पूर्व बीज को कवकनाशी थायरम तथा बावस्टीन से 1.51 ग्रा प्रति किग्रा बीज की दर से मिलाकर उपचार करें। आनेवाले 5 दिनों के दौरान मौसम शुष्क रहने की संभावना को देखते हुए, सरसों की फसल जो 30-35 दिनों, फूल आने से पूर्वाद्ध की हो गई है। उसमें पहली सिंचाई की व्यवस्था करें। चने की फसल में जड़ सड़न रोग का प्रकोप देखा जा रहा है। किसान फसल का निरीक्षण करते रहे तथा खेत में ग्रसित पौधे पाए जाने पर रोकथाम के लिए रिड़ोमिल दवा की 1.5 से 2.0 मिली मात्रा प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर जड़ों के आसपास छिड़काव करें। आनेवाले 5 दिनों के दौरान औसत तापमान 20 डिसे रहने तथा मौसम शुष्क रहने की संभावना को देखते हुए, किसान सिंचित तथा समय से बोवनी के लिए गेहूं की बोवनी का कार्य करें। बोने से पूर्व बीज को कवकनाशी, थायरम तथा बावस्टीन से 1.51 ग्रा प्रति किग्रा बीज की दर से कंडवा रोग से बचाव के लिए उपचार करके बोएं। इसके बाद बीज को एजोटोबेक्टर व पीएसबी कल्चर से उपचारित करें।

अरब सागर से मिल रही नमी का असर खत्म होने के बाद अब ठंड असर दिखाने लगी है। दिन और रात का तापमान मामूली उतार-चढ़ाव का दौर है। ऐसे में मंगलवार को अधिकतम तापमान 28.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 11.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। एक दिन पहले सोमवार को अधिकतम तापमान 28.0 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 11.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था।

मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में और तापमान कम होने का अनुमान जताया है। नोडल अधिकारी एके श्रीवास्तव ने बताया कि अरब सागर से नमी अब खत्म हो रही है। इससे बादल छंट गए हैं। दिन में तपन कम हो रही है तो रात में भी ठंड का असर बढ़ा है। ऐसे में मंगलवार को दिन में भी ठंड का अहसास हुआ। दिन का तापमान कम हो गया। उत्तर-पूर्व की ओर से हवाओं की रफ्तार 5 से 8 किमी प्रतिघंटे की रही। श्रीवास्तव के अनुसार आने वाले दिनों में नमी का असर कम होगा। इससे तापमान कम होने लगेगा। एक दो दिन में ठंड बढ़ेगी और तापमान में गिरावट होगी। मौसम विज्ञान विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार टीकमगढ़ जिले में आनेवाले 5 दिनों के दौरान मौसम आमतौर पर शुष्क तथा समान में आंशिक बादल छाए रहने की संभावना है। दिन के तापमान में 1-2 डिसे की गिरावट रहने तथा रात का तापमान 9-10 डिसे के आसपास रहने की संभावना है। आनेवाले 5 दिनों में न्यूनतम तापमान 9-10 डिसे के मध्य रहने की संभावना को ध्यान में रखते हुए, किसान फल एवं सब्जी फसलों में हल्की सिंचाई कर सकते हैं।

टमाटर की फसल में लग रहा झुलसा रोग

श्रीवास्तव ने बताया कि टमाटर में अल्टरनेरिया, पत्ती झुलसा रोग देखा जा रहा है। किसान इसकी रोकथाम के लिए मेंकोजे, 2.5 ग्राम दवा प्रति लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें। आनेवाले 5 दिनों के दौरान मौसम शुष्क रहने की संभावना को देखते हुए, जिन किसान ने की प्याज की पौध तैयार की है वे मुख्य खेतों में रोपाई करें, तथा रोपाई के बाद हल्की सिंचाई अवश्य कर दें। वहीं गाय-भैंस को शीतला रोग, रिंडर पेस्ट, और मुंह व खुरपका से बचाव के टीका जरूर लगवाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here