बारिश होगी या मौसम रहेगा साफ: अब 5 दिन पहले ही किसानों को व्हाट्सएप ग्रुप में मिल जाएगी सही जानकारी

0
116

छतरपुर Dec 03, 2019

नौगांव ब्लाॅक सहित छतरपुर जिले के किसानों को आगामी कुछ ही दिनों के अंदर मौसम की सही जानकारी उनके मोबाइल व्हाट्सएप ग्रुप, अखबार, रेडियो स्टेशन सहित अन्य साधनों से मिलने लगेगी। किसानों को मौसम की सही जानकारी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सरकार द्वारा ग्रामीण कृषि मौसम सेवा प्रोजेक्ट के तहत छतरपुर सहित देश भर के 200 जिलों का चयन कर “आॅटोमेटिक वेदर स्टेशन’’ स्थापित किए जा रहे हैं। इसके तहत विभाग के अधिकारियों ने मऊसहानियां में ऑटो मैटिक वेदर स्टेशन का सादे रूप में शुभारंभ किया।

ग्रामीण कृषि विकास विकास विभाग द्वारा ग्रामीण कृषि मौसम सेवा प्रोजेक्ट के नगर में स्थित कृषि विज्ञान केंद्र के मऊसहानियां कृषि प्रक्षेत्र सहित देश भर के 200 जिलों का चयन कर पायलट प्रोजेक्ट के तहत आॅटोमेटिक वेदर स्थापित किये जा रहे हैं। आटोमेटिक वेदर स्टेशन स्थापित होने से अब किसानों को आगामी कुछ ही दिनों में मौसम की सही जानकारी मिलती रहेगी। बारिश होने, धूप निकलने, कोहरा होने के 5 दिन पहले ही किसानों को उनके मोबाइल व्हाट्सएप ग्रुप, रेडियो स्टेशन, अखबार आदि के माध्यम से मिलेगी। इससे पहले ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन न होने से छतरपुर जिले के किसानों को मौसम की सही जानकारी न मिलने के कारण सबसे अधिक नुकसान उठाना पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, जल्दी ही कृषि विज्ञान केंद्र नौगॉव में ओटोमेटिक वेदर स्टेशन शुरू हो रहा है। इस वेदर स्टेशन से सबसे अधिक फायदा यह होगा कि किसानों को मौसम से संबंधित जानकारी समय रहते मिलेगी। कई बार मौसम की सही जानकारी न मिल पाने के कारण किसानों की पूरी फसल नष्ट हो जाती है समय पर किसानों को मौसम की जानकारी मिलने से मौसम के अनुसार अपनी खेती में बदलाव कर सकेंगे और खेती में होने वाले भारी नुकसान से बच जाएंगे।

सप्ताह में दो दिन उपलब्ध होगी जानकारी: मौसम की सही जानकारी किसानों तक पहुंचाने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक हेमंत कुमार सिन्हा एवं ऑब्जर्वर अतर सिंह सप्ताह में दो दिन – मंगलवार और शुक्रवार को मौसम की जानकारी उपलब्ध कराएंगे। कृषि विज्ञान केंद्र प्रभारी वैज्ञानिक डॉ वीणा पाणी श्रीवास्तव, डॉ कमलेश अहिरवार सहित डॉ राजीव सिंह, डॉ ज्ञान चंद्र ओझा ने कृषि के लिए आटोमेटिक वेदर स्टेशन को वरदान बताया है।

आॅटोमेटिक वेदर स्टेशन

कैसे दी जाएगी किसानों को मौसम की जानकारी

कृषि विज्ञान केंद्र नौगांव में किसानों को कृषि से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने के लिए एक किसान पोर्टल बनाया गया है। इस पोर्टल पर जिले के किसान पंजीकृत है उन किसानों को उनके मोबाइल व्हाट्सएप ग्रुप पर मौसम के अनुसार खेती में होने वाली गतिविधियां, पशु पालन, मुर्गीपालन मछलीपालन से होने वाले नुकसान से बचाने के लिए जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। मोबाइल फोन के साथ साथ न्यूज़ पेपर, आकाशवाणी और समाचार बुलेटिन आदि माध्यम के द्वारा भी मौसम की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here