हरदा : धीमी गति से हाे रही गेंहूँ की तुलाई, किसानों ने किया हंगामा, समझाइश के बाद माने

0
139

हरदा Apr 30, 2019

स्थानीय कृषि उपज मंडी परिसर में बने पीपल्या-मकड़ाई खरीदी केंद्र पर सोमवार को अव्यवस्था के चलते किसानों ने हंगामा कर दिया। किसानों का कहना था कि विगत दिनों तक व्यवस्थित खरीदी चल रही थी, लेकिन केंद्र प्रभारी को सस्पेंड करने के बाद से अचानक व्यवस्था बिगड़ गई। तब से ही खरीदी लगभग बंद जैसी ही है। हम मंडी में परेशान हो रहे हैं। इसलिए आवाज उठाई ताकि समय से हमारा गेहूं तुल सके।

25 अप्रैल को अचानक मंडी में माहौल गरमाया और केंद्र प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया। तब से तात्कालिक केंद्र प्रभारी की व्यवस्था कर खरीदी शुरू की गई। 130 ट्राली में से मात्र 60 खरीदने के बाद भी बाकी 70 ट्राली गुरुवार से ही मंडी प्रांगण में खड़ी है। जिससे किसान परेशान हैं। सोमवार को जब केंद्र प्रभारी अमित चौरसिया सुल्तानपुर वेयरहाउस जाकर खरीदे गेहूं का तौल करवाने पहुंचे तो मंडी में खरीदी बंद हो गई। मंडी पहुंचते लगभग 1 बजे किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। तहसीलदार एवं थाना प्रभारी सहित मंडी पहुंचकर अमित चौरसिया को समझा बुझाकर गेहूं खरीदी शुरू करा दी गई।

सिराली। तहसीलदार को समस्या बताते नाराज किसान।

ऑपरेटर को बना दिया केंद्र प्रभारी

25 अप्रैल को केंद्र प्रभारी शंकरलाल मालवी को सस्पेंड करने के बाद दूसरे दिन आनन फानन में समिति प्रभारी नरेश पगारे ने ऑपरेटर अमित चौरसिया को ही केंद्र प्रभारी बना दिया। जबकि अमित चौरसिया को नान ने ऑपरेटिंग काम के लिए रखा है। किसी दूसरे विभाग के व्यक्ति को केंद्र प्रभारी कैसा बना दिया गया यह समझ से परे है। नियम के अनुसार जब ऑपरेटर की सैलेरी नान से मिलती है फिर विभाग से बगैर पूछे उसके कर्मचारी को केंद्र प्रभारी कैसा बना दिया यह जांच का विषय हो सकता है।

मुझे जबरदस्ती प्रभारी बनाया है

तुलाई चालू करवा दी 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here