खंडवा : नपा के पत्र लिखने के बाद भी सिंचाई के लिए पानी ले रहे 10 किसानों की मोटरें जब्त

0
112

खंडवा May 03, 2019

रोक के बावजूद नगरपालिका के स्टॉपडेम से अवैध रूप से सिंचाई के लिए पानी ले रहे 10 किसानों की मोटरें गुरुवार को जब्त की गई। नगरपालिका द्वारा पत्र लिखने के बाद कार्रवाई हुई है। मोटरें लगाने से स्टॉपडेम से प्रतिदिन 6 इंच पानी संग्रहित हो रहा था। भास्कर ने खबर प्रकाशित कर जिम्मेदारों का ध्यान इस ओर आकर्षित कराया था।

शहर में जल आपूर्ति के लिए नगरपालिका ने अप्रैल माह तक रलावती तालाब से चौथी बार पानी छुड़वाया था। नपा के फिल्टर प्लांट व मेहतगांव स्टॉपडेम सहित बोरली बैराज में एकत्रित पानी कुछ किसानों द्वारा मोटर लगाकर सिंचाई के लिए लिया जा रहा था। नगरपालिका ने इसकी शिकायत एसडीएम से कर मोटरें जब्त कराने की मांग की थी। एसडीएम ने नपा का आवेदन बिजली कंपनी को भेजा तो बिजली कंपनी के अधिकारियों ने एसडीएम का आदेश मिलने के बाद कार्रवाई करने की बात कही थी। इसके बाद भास्कर ने खबर प्रकाशित कर जिम्मेदारों का ध्यान आकर्षित कराया था।

डेम में लगी पानी की मोटर जब्त करते बिजली कंपनी के कर्मचारी।

टीएल बैठक में दिए मौखिक निर्देश पर की कार्रवाई

सोमवार को टीएल बैठक में एसडीएम के मौखिक निर्देश पर बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने नपा कर्मचारियों व ग्रामीण थाना पुलिस के साथ मेहतगांव, बोरली व बारद्वारी से 10 से ज्यादा किसानों की मोटर जब्त की। बिजली कंपनी के ग्रामीण यंत्री राजू डावर ने बताया एसडीएम के निर्देश पर किसानों को फरवरी माह से पानी नहीं लेने की सूचना दी थी। फिर भी पानी लिया जा रहा था। इसके चलते जब्ती की कार्रवाई की गई।

पूर्व में काटे थे 200 कनेक्शन, की थी मारपीट

फरवरी माह से गोई नदी से सिंचाई के लिए पानी लेने पर रोक लगी है। इस आदेश को कुछ किसान नहीं मान रहे थे। इसके बाद उसी माह 200 बिजली कनेक्शन काटे गए। कार्रवाई करने गए ग्रामीण यंत्री डावर के साथ कुछ किसानों ने मारपीट की थी। इसको लेकर ग्रामीण थाने में केस भी दर्ज कराया गया। पूर्व की घटना को देखते हुए बिजली कंपनी के कर्मचारी इस बार पुलिसकर्मियों को भी साथ में लेकर गए थे।

मोटर चलने से प्रतिदिन 6 इंच पानी हो रहा था कम

नपाकर्मियों के अनुसार डेम में मोटर चलने से प्रतिदिन 6 इंच पानी कम हो रहा था। इससे कुछ दिनों में ही पानी खत्म हो जाता। इसके चलते शहर में पेयजल के लिए संकट की स्थिति निर्मित होती। वर्तमान में 15 मई तक पानी शहर में सप्लाई किया जाएगा। डेम में पानी की कमी को देखते हुए 15 मई के बाद पुनः रलावती से एक बार पानी छुड़वाया जाएगा। वही रलावती बांध में भी केवल दो बार छोड़ने जितना पानी बचा है।

व्यर्थ पानी बहाने व गाड़ी धोने पर कोटेंगे नल कनेक्शन

नपाकर्मियों ने बताया कि शहर में जल की बर्बादी को रोकने के लिए शुक्रवार से जिस क्षेत्र में पानी का सप्लाई किया जाएगा। वहां नपा टीम पहुंचकर लोगों को पानी व्यर्थ नहीं बहाने की समझाइश देगी। कोई व्यक्ति पानी व्यर्थ बहाते हुए या वाहन धोते हुए नजर आया तो उसका नल कनेक्शन काटने की कार्रवाई भी की जाएगी। जल आपूर्ति की समस्या को देखते हुए नपा ने यह निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here