किसानों को बुलाया, 3 घंटे इंतजार कराया, फिर एसडीएम बोले- कलेक्टर को बताएंगे

0
99

मंदसौर Nov 06, 2019

मंगलवार सुबह 10 बजे एसडीएम ने 8 लेन एक्सप्रेस-वे में फलदार पौधे से प्रभावित किसानों को बुलाया लेकिन 1.30 बजे तक एसडीएम किसानों से नहीं मिले। साढ़े 3 घंटे बाद किसानों को बुलाया लेकिन कार्यालय गेट पर 20 मिनट तक भीतर घुसने नहीं दिया। बाद में एसडीएम ने कहा केवल 4 किसानों से बात की जाएगी। यह सुनकर 100 से ज्यादा किसान आक्रोशित हो गए। बोले – चर्चा सभी के होगी वरना अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया जाएगा। एसडीएम ने सभी किसानों को कार्यालय के भीतर बुलाया। किसानों और उद्यानिकी अधिकारी के बीच डेढ़ घंटे तक बैठक में कोई नतीजा नहीं निकला। किसानों का कहना है कि मुआवजा राशि में घोटाला किया है।

बैठक में उद्यानिकी विभाग उपसंचालक मनीष चौहान ने गलतियां स्वीकार की लेकिन मामला किसानों की बात को कलेक्टर तक पहुंचाने तक ही सीमित रह गया। बाहर आकर कुछ किसानों ने कहा – जब कलेक्टर ही समस्या को हल कर सकते हैं तो उद्यानिकी विभाग के साथ बैठक क्यों रखी। हालांकि डेढ़ घंटे तक चली बैठक के दौरान एसडीएम केसी ठाकुर ने पूरे समय चुप्पी साध ली। उद्यानिकी अधिकारी भी किसानों के सवालों का जवाब नहीं दे पाए। इस दौरान उद्यानिकी विभाग के अधिकारी जो आदेश पत्र लेकर आए थे, जिसके आधार पर नया अवाॅर्ड पारित किया गया वह भी झूठा साबित हुआ। यह आदेश सीतामऊ एसडीएम के नाम था। इसकी जानकारी भी किसानों को बाहर आकर लगी।

एसडीएम के इंतजार में बैठे रहे किसान।

एसडीएम व उद्यानिकी उपसंचालक पर किसानों ने लगाए अारोप


अब कलेक्टर को अवगत कराया जाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here