मंदसौर : कट्टों से भरा मंडी परिसर, बाहर दुकानों पर बिक रही उपज, राजस्व का हो रहा नुकसान

0
98

मंदसौर May 01, 2019

कृषि उपज मंडी में इन दिनों किसानों की उपज नीलामी के साथ समर्थन मूल्य पर भी खरीदी हो रही है। परिसर में जगह-जगह समर्थन मूल्य पर खरीदे जा रहे माल के बाेरे रखे हैं। ट्रांसपोर्ट नहीं होने से परिसर में नीलामी के लिए बहुत कम जगह बची है। इस जगह में कुछ ही किसान अपनी उपज के ढेर लगा पा रहे हैं। मंगलवार को भी यही स्थिति बनी। अंदर जगह नहीं होने पर बाहर वाहनों की लाइनें लगी रही। इस अव्यवस्था का बाहर व्यापारी फायदा उठा रहे हैं। वह बाहर ही किसानों की उपज को खरीद रहे हैं जिससे शासन को राजस्व का नुकसान हो रहा हैं। इसके बाद भी जिम्मेदार बेतुके जवाब देकर जिम्मेदारियों से बचने का प्रयास कर रहे हैं।

शामगढ़ कृषि उपज मंडी में समर्थन मूल्य पर विक्रय हो रहा गेहूं जगह-जगह कट्टों में भरकर रखा है। इससे मंडी परिसर में नीलामी के लिए पर्याप्त जगह नहीं बची। मंगलवार को मंडी में अच्छी आवक रही, जिससे सभी किसानों की उपज के ढेर मंडी में नहीं लग पाए। कुछ किसानों ने ढेर लगा दिए लेकिन बड़ी संख्या मंे वाहन बाहर खड़े रहे। वाहनों की संख्या अधिक होने पर अंदर अव्यवस्था को देख कई व्यापारी बाहर ही किसानों से माल खरीदने लगे। मंडी परिसर के बाहर करीब 7 दुकानों पर अवैध रूप से किसानों का माल खरीदा जा रहा है। मंगलवार को गरोठ रोड, रेलवे स्टेशन रोड, सुवासरा रोड पर बिना नाम की 7 दुकानें संचालित हैं लेकिन वह किसानों की उपज खरीद रहे हैं। मंडी के अंदर दलहन-तिलहन के 70 व्यापारियों के लाइसेंस हैं और इन्हीं व्यापारी में से कुछ व्यापारी व कुछ के परिवारवाले मंडी से बाहर अपने प्रतिष्ठानों पर किसानों से माल खरीदते हैं। इनको ना तो मंडी का डर है और ना ही प्रशासन का। हालत यह है कि जिम्मेदार भी बेतुके से उदाहरण देकर अपनी जिम्मेदारियों से बचने का प्रयास कर रहे हैं।

शामगढ़ मंडी परिसर में जगह-जगह इस तरह लग रहे कट्‌टों के ढेर।

कार्रवाई पर उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ रहा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here