7 दिन के अवकाश से पहले मंडी में 12 हजार क्विं. आवक, 3275 रुपए क्विंटल तक बिका सोयाबीन

0
137

सीहोर Nov 23, 2018

शुक्रवार से मंडी में 29 नवंबर तक त्योहार और चुनाव प्रक्रिया के कारण अवकाश रहेगा। इसकी सूचना पर अवकाश से पहले बंपर आवक रिकार्ड की गई। गुरुवार को करीब 20 हजार क्विंटल आवक रिकार्ड की गई। इस दौरान सोयाबीन की फसल 2300 से 3275 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से बिकी। गुरुवार को मंडी में अच्छी आवक होने के साथ ही आज से अवकाश होने के कारण मंडी देर शाम तक नीलामी की गई। ताकि किसान बिना नीलामी के वापस न जाएं। सुबह के समय मंडी ट्रैक्टर-ट्रालियों से खचाखच भरा हुआ था।

ट्रैक्टर-ट्रॉलियों के कारण जाम के हालात भी बने: इस दौरान कई बार जाम जैसे हालात भी निर्मित हुए। इस दौरान किसानों को काफी परेशानी हुई। वहीं सुबह 11 बजे की नीलामी के बाद ट्रैक्टर-ट्रॉली को निकालने के लिए किसान परेशान होते रहे। करीब एक घंटे के बाद किसानों ने ही अपनी सूझ-बूझ से ट्रैक्टर-ट्रॉलियां को आगे-पीछे कर जाम निकाला। तब कहीं जाकर किसान व्यापारियों की दुकानों के पास उपज खाली करने के लिए पहुंचे।

अवकाश से पहले 20 हजार क्विंटल हुई आवक, शाम 6 बजे तक की गई नीलामी

1425 किसानों ने बेची भावांतर में उपज

20 अक्टूबर से भावांतर योजना शुरु की गई है। इसके तहत सोयाबीन और मक्का की उपज को भावांतर में शामिल किया गया है। सीहोर कृषि उपज मंडी में सोयाबीन और मक्का की उपज बेचने वाले करीब 1525 किसान हैं। इसमें गुरुवार को करीब 208 किसानों ने सोयाबीन और मक्का की उपज बेची, जिन्हें भावांतर योजना का लाभ दिया जाएगा। सोयाबीन का समर्थन मूल्य 3399 निर्धारित किया गया है। जबकि मक्का का मूल्य 1700 रुपए निर्धारित किया गया है। इसके साथ ही पंजीकृत किसानों को 500 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से भावांतर राशि का भुगतान किया जाएगा।

मंडी में देर शाम तक की गई नीलामी। उपज में एफएक्यू का रखा गया ध्यान।

नीलामी में पहले नंबर आए इसलिए रात में ही उपज लेकर पहुंचे किसान

कृषि उपज मंडी में किसान सुबह नीलामी के दौरान पहले नंबर आ जाए इसके लिए रात के समय ही मंडी की तरफ रुख कर चुके थे। मंडी में सुबह 10 बजे तक चारो शेड फुल हो चुके थे। दोपहर 12 बजे के बाद मंडी में जाम जैसे हालात निर्मित हो गए थे। इस दौरान कई बार जाम की स्थिति भी बनी। साथ ही किसान एक घंटे तक नीलामी के बाद ट्रैक्टर-ट्रालियों को निकालने के लिए परेशान होते रहे।

आखिरी दिन हुई अच्छी आवक

सात दिन के अवकाश से पहले आखिरी दिन मंडी में अच्छी आवक रिकार्ड की गई। इसकी सूचना किसानों को पूर्व में प्रेषित कर दी गई थी। इससे गुरुवार को करीब 20 हजार क्विंटल उपज की आवक रिकार्ड की गई। इसमें सोयाबीन की उपज करीब 15 हजार क्विंटल है। इससे पहले मंडी में दीपावली से पूर्व 20 हजार क्विंटल आवक रिकार्ड की गई थी। यह इस सीजन की दूसरी बार सबसे अधिक आवक है।

30 को खलेगी मंडी, आज से अवकाश

इन दामों में बिकी फसल

गुरुवार को मंडी में लोकवन गेहूं 1661 से 2271 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से बिका। इसी तरह शरबती गेहूं 2200 से 2965, चना 3100 से 4200, मक्का 1081 से 1382, मसूर 3000 से 3380, सोयाबीन 2300 से 3275 और राई 3000 रुपए से 4121 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से बिकी। इस दौरान आवक करीब 20 हजार क्विंटल रिकार्ड की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here