ग्रामीणों के बीच मनाया किसान दिवस, उनकी समस्याएं भी सुनीं

0
100

कराहल Dec 23, 2019

भारत एक कृषि प्रधान देश हैं जहां कि जनसंख्या का एक बड़ा हिस्सा खेती-किसानी के काम में मशगूल रहता है। किसान जब खेत में मेहनत करके अनाज पैदा करते हैं तभी वह हमारी थालियों तक पहुंच पाता है। ऐसे में किसानों का सम्मान करना बेहद जरूरी है। यह बात रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में लक्ष्मी शंकर कोरी ने ग्रामीणों को बताई।

उन्होंने बताया कि भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी कहे जाने वाले किसानों को आज का दिन समर्पित है। आज ही भारत के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह का जन्मदिन भी है। जो किसानों के हितैषी थे और उनके सम्मान में ही आज के दिन को किसान दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्हें किसानों के मसीहा के तौर पर भी जाना जाता है। इस दौरान ग्रामीणों के साथ घर-घर जाकर बैठक की गई। इस दौरान ग्रामीणों ने खेती के लिए गांव में पानी और विद्युत की समस्या भी बताई साथ ही ग्रामीणों के साथ मिलकर पंचनामा तैयार करते हुए अधिकारियों से चर्चा कर समस्याओं के समाधान की बात भी कही। इस मौके पर ग्रामीण व दिशा परियोजना के सदस्य मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here