100 रुपए प्रति क्विंटल तक कम हुए फसल के दाम, किसानों को नुकसान

0
84

टिमरनी Oct 29, 2018

भावांतर योजना शुरू होते ही मंडी में उपज की आवक बढ़ गई है। फिलहाल मंडी में सोयाबीन और मक्का की बंपर आवक बनी हुई है। किसानों से भावांतर योजना के तहत उपज खरीदी जा रही है। इसके साथ ही मंडी में किसानों से उपज कमतर दामों में खरीदी जा रही है। बीते दिनों मंडी में भावांतर के पहले आवक दो सौ से तीन सौ क्विंटल प्रतिदिन के आसपास थी। जो अब सीधे हजार से दो हजार क्विंटल पर पहुंच गई है। आवक अधिक होने से उपज के दाम भी प्रति क्विंटल सौ रुपए तक कम हो गए हैं। आवक अधिक होने से मंडी के शेडों में जगह की कमी हो गई है। भाव गिरने के पीछे कारण आवक अधिक होना बताया जा रहा है। भावांतर के अंतर्गत पंजीकृत किसानों को 500 रुपए प्रति क्विंटल शासन की ओर से दिया जाएगा, जिसकी वजह से व्यापारियों ने दाम गिरा दिए हैं।

भावांतर योजना की भेजी जा रही रिपोर्ट

व्यापारी मंडी में किसानों से फ्लेट भावांतर योजना में सोयाबीन, मक्का खरीद रहे हैं। शनिवार को मंडी में उपज का भाव सोयाबीन 2850 से 3025 तक और मक्का 925 से 1310 रुपए प्रति क्विंटल तक बिकी। सहायक नोडल अधिकारी व ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी गिरीश मालवीय ने बताया व्यापारियों की स्टॉक पंजी का अवलोकन किया। किसानों को नकद भुगतान, आरटीजीएस आदि रिकार्ड चेक किए। साथ ही मंडी गेट पर प्रवेश पर्ची की जांच, अनुबंध भुगतान पर्ची, तौल कांटा पर्ची आदि दस्तावेजों का अवलोकन भी किया। उन्होंने बताया प्रतिदिन की रिपोर्ट भी उपसंचालक कृषि हरदा को निर्धारित प्रपत्र में मेल की जा रही है।

टिमरनी। भावांतर योजना के तहत नीलामी में उपज खरीदते व्यापारी।

कम दाम में फसल बेचना किसानाें की बनी मजबूरी

कृषि उपज मंडी में समर्थन मूल्य से कम दामों में मक्का सोयाबीन की खरीदी हो रही है। किसानों का कहना है मंडी सचिव भाव के समय नदारद रहते हैं। किसानों को आर्थिक मजबूरी के चलते समर्थन मूल्य से कम दामों में उपज बेचनी पड़ रही है। फिलहाल किसान रबी फसल की तैयारी में लगे हुए हैं। इस समय किसान को नकद राशि की आवश्यकता भी है। ऐसी हालत में किसानों ने बताया कम दामों पर उपज बिकने से उन्हें नुकसान उठाना पड़ रहा है। समर्थन मूल्य से कम दामों पर खरीदी जा रही उपज को लेकर किसान योगेश कुमार, मोहन सिंह, भागवत सिंह, जीवनसिंह आदि किसानों ने नाराजगी जाहिर की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here