सरकारी कोटे में गेहूं का बंपर स्टॉक

0
126

उज्जैन Dec 17, 2019

सरकारी कोटे में गेहूं का भरपूर भंडार है। नई उपज लबालब होने के आसार है। मंडी में गेहूं महंगा बिक रहा है। सरकार अपना स्टॉक घटे भाव पर बेचने आए तो खुले बाजार में 100 रुपए भाव कम हो जाएंगे। व्यापार का अभाव, कमजोर आवक से गेहूं में तेजी रहेगी या 100 रुपए भाव कम होंगे ऐसी चर्चा गल्ला व्यापार में आम है। गेहूं बीज में बेचने वालों के पास बिल ज्यादा हो गए। कम भाव पर बेचने में भी पसीना आ रहा है। केन्वासर्स के कांति सकलेचा ग्राहकी बढ़ने के बाद ही व्यापार की दिशा स्पष्ट करेंगे। मंडी नीलामी में लोकवन गेहूं 2581 रुपए बिका।

ठंड से डॉलर का डंक टूटा, अधिक तौल के मंडी प्रशासन ने बनाए प्रकरण : उज्जैन मंडी में अब अधिक तौल की समस्या आम होने लगी है। चना डॉलर 5851 रुपए बिका। अधिक तौल की जांच मंडी प्रशासन किसान की शिकायत पर करता है। बड़े सरमाएदारों के कांटों पर इस प्रकार का कृत्य हो चुका है। जांच की तो उपज अधिक निकली। इसे तकनीकी खामी बताकर प्रकरण कमजोर करने की खबर है। डॉलर चने के व्यापारी हजारीलाल मालवीय ने बताया डॉलर में मंदी बनी हुई है। विदेशों में कोई लेवाल नहीं आया तो डॉलर चना अपने न्यूनतम भाव पर बिकने की संभावना है।

पीली मक्का महंगी, बाजरा सस्ता : पीली मक्का और महाराष्ट्र की ज्वार के बढ़ गए हैं। भिंड का बाजरा सस्ता चल रहा है। भारी ठंड में अब मोटे अनाज में मक्का का उपभोग ज्यादा किया जा रहा है। 2200 रुपए क्विंटल वाली मक्का के आटे के भाव 35 से 40 रुपए किलो चल रहे हैं। ज्वार का आटा भी इसी भाव से मिल रहा है। उज्जैन मंडी में बाहर से मक्का मंगवाई जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here