यूडीए में किसानों का हंगामा, सुनवाई का बहिष्कार, जमीन देने से किया इनकार

0
110

उज्जैन  | Oct 06, 2018

86 हेक्टेयर में बनाई जाने वाली करीब 250 करोड़ की आगर रोड आवासीय योजना में हक्कानीपुरा एवं खिलचीपुर की जमीन को लेकर धारा 50 (3) में आई आपत्तियों की सुनवाई में शुक्रवार को प्राधिकरण में हंगामा हो गया। किसान बहिष्कार कर प्राधिकरण से बाहर चले गए। उन्होंने यूडीए के गेट पर जमकर नारेबाजी की। उनका आरोप था कि हम लोग 12 बजे से आए हैं, हमसे मिलने के लिए काेई नहीं आया और न ही बोर्ड बैठक में बुलाया गया। हक्कानीपुरा क्षेत्र के किसान मोहनलाल, बद्रीलाल व खिलचीपुर के जीवनसिंह सहित 35 किसान आपत्तियों की सुनवाई में गए थे। प्राधिकरण प्रशासन ने बाद में बुलाया तो उन्होंने जमीन देने से इंकार कर दिया। उन्हें यूडीए की ओर से बताया गया कि योजना में आप लोगों को प्राधिकरण पार्टनर बनाएगा। इसके लिए भी वे तैयार नहीं हुए। उन्होंने कहा, हम जमीन नहीं देंगे। यूडीए चेयरमैन जगदीश अग्रवाल का कहना है कि यूडीए बोर्ड की बैठक चल रही थी इसलिए किसानों को नहीं बुलाया जा सका। उनके लिए संपत्ति शाखा में बैठने और चाय पानी का इंतजाम किया था। उन्हें बोर्ड बैठक में बुलाकर उनकी आपत्तियों पर सुनवाई की गई। जिसमें 80 प्रतिशत लोग सहमत भी हो गए थे। उन्हें जमीन के बदले डेवलप प्लॉट दिए जाएंगे। केवल 20 प्रतिशत ने ही इंकार कर दिया। बैठक में हल्ला मचाने लगे तो कलेक्टर मनीष सिंह ने उनसे कहा कि शालीनता से बात करें। यहां इस तरह से बात नहीं करें, नहीं तो बाहर चले जाओ। यह सुनने के बाद सभी किसान बाहर चले गए। अग्रवाल का कहना है कि किसानों को फिर आपत्तियों की सुनवाई के लिए बुलाया जाएगा। यह पुराने शहर की पहली आवासीय योजना है, जहां पर चार हजार मकान-प्लॉट होंगे। स्कूल-कॉलेज, खेल मैदान, गार्डन आदि होंगे। कॉलोनी को मक्सी रोड, तराना-कानीपुरा व आगर रोड से लिंक किया जाएगा। योजना की बोर्ड व शासन से स्वीकृति पहले ही मिल चुकी है। उन्होंने बताया बोर्ड की बैठक में वसंत विहार के आम्रकुंज में शापिंग काम्पलेक्स व शिप्रा विहार में 100 मकानों का क्लोज कैम्पस एकात्म परिसर बनाए जाने सहित 23 प्रस्तावों को मंजूरी मिल गई है। बैठक में कलेक्टर मनीष सिंह, नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल व यूडीए सीईओ अभिषेक दुबे मौजूद थे।

यूडीए अधिकारियों से प्लान मांगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here