लाइसेंस शुल्क में 5 गुना बढ़ोतरी के विरोध में 20 दिसंबर को व्यापारी करेंगे मंडी बंद

0
136

विदिशा Dec 18, 2019

लाइसेंस शुल्क में की गई पांच गुना बढ़ोतरी के विरोध में अनाज एवं तिलहन व्यापार संघ ने मंगलवार को मुख्यमंत्री को संबोधित एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। उन्होंने शुल्क में कमी नहीं होने पर 20 दिसंबर को मंडी बंद करने की चेतावनी दी है।

मंगलवार शाम को अनाज एवं तिलहन व्यापार संघ के अध्यक्ष समीर भार्गव के नेतृत्व में व्यापारी एसडीएम संजय जैन के कार्यालय में पहुंचे। उन्होंने सीएम को संबोधित एक ज्ञापन एसडीएम को देते हुए बताया कि मंडी बोर्ड द्वारा मंडी लाइसेंस की फीस 1 हजार रुपए से बढ़ाकर 5 हजार रुपए एवं 25 हजार रुपए कर दी गई है। इसके साथ ही अभी तक निशुल्क मिलने वाले आवेदन फार्म की कीमत भी 100 रुपए कर दी गई है, जो वैधानिक है। फीस वृद्धि की वजह मंडी में कृषि उपज के बेहतर नियमन व्यवस्था स्थापित करना बताई गई है। जबकि इसके लिए मंडी प्रबंधन द्वारा निर्धारित दर से मंडी फीस की वसूली की जाती है।

अनावश्यक भार पहले से वहन करना पड़ रहा: ज्ञापन में बताया गया कि जीएसटी सहित अन्य शुल्क में वृद्धि से व्यापारियों को अनावश्यक भार पहले से वहन करना पड़ रहा है। ऐसे में लाइसेंस शुल्क में की गई, इस बढ़ोतरी से व्यापारियों में नाराजगी है। उन्होंने बताया कि शुल्क वृद्धि के विरोध में प्रदेश की सभी मंडियों के अनाज व्यापारी 20 दिसंबर को सांकेतिक हड़ताल पर रहेंगे और इस दिन मंडी को बंद रखेंगे।

उन्होंने व्यापारी हित में मंडी लाइसेंस शुल्क में की गई अनावश्यक बढ़ोतरी को वापस लेने की मांग सीएम से की है। ज्ञापन सौंपने वालों में अनिल मंगल, लोकेश जैन, कमलेश जैन तथा समकित जैन के साथ ही संघ के अन्य पदाधिकारी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here