एनीकट में अभी से रोकें पानी, इलेक्ट्राॅनिक कांटे से हो धान खरीदी

0
228

 

धमतरी | धान खरीदी इस बार 1 नवंबर से शुरू हो जाएगी। जिला प्रशासन तैयारी में जुट गया है और इधर किसान संघ समस्या लेकर प्रशासन तक पहुंच रहे हैं। सोमवार को जिला किसान संघ के पदाधिकारी व ग्रामीण 12 सूत्रीय मांगों को लेकर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। अपनी मांगों को लेकर किसानों ने कलेक्टोरेट गेट के पास नारेबाजी कर प्रदर्शन भी किया। किसानों ने कहा कि धान का समर्थन मूल्य 2600 रूपए किया जाए। प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान की खरीदी हो। पंजीयन नहीं करा पाने वाले किसानों का धान मंडियों में खरीदा जाए, हर साल मेनुअल कांटा से धान की तौलाई होती है, जिसमें किसानों का अतिरिक्त धान तौला जाता है, इसलिए इस साल सिर्फ इलेक्ट्रानिक कांटे से तौल किया जाए, वाटर लेवल बनाए रखने के लिए रेत खदानों को बंद किया जाए, बिजली कटौती बंद हो, किसानों का बैंक कर्ज माफ हो, सभी सड़कों का चौड़ीकरण हो, एनीकटो में अभी से पानी रोका जाए, जिले के बैंकों में किसानों के लिए पानी व प्रसाधन सुविधा रखी जाए, बीते वर्ष की सूखा राहत राशि और बीमा राशि का भुगतान किया जाए, साथ ही शासन द्वारा घोषित चने का प्रोत्साहन राशि भी तत्काल दिया जाए। यदि एक हफ्ते के भीतर मांगों पर कार्रवाई नहीं होती है, तो धरना प्रदर्शन करेंगे। जिला किसान संघ के बिसहत राम साहू, रज्जू साहेब, हिरेन्द्र साहू, जयप्रकाश साहू, मोतीराम, दिनेश, गणेश, बलिराम आदि ने कहा कि कृषि लागत पहले से काफी ज्यादा बढ़ गई है, इसलिए समर्थन मूल्य बढ़ाना जरूरी है।

रेत खदान चालू करने एनीकट का गेट खोल बहा दिया पानी : इधर ग्राम देवपुर, नवागांव, दरगहन क्षेत्र के ग्रामीण कलेक्टोरेट पहुंचे थे। ग्रामीणों ने बताया कि देवपुर एनीकट में बारिश का पानी एकत्रित हुआ था, जिसे बहा दिया गया है। अभी भी गेट को बंद नहीं किया गया है। ऐसे में फिर से बारिश हुई भी, तो पानी नहीं रूक पाएगा। ग्रामीण जयप्रकाश साहू, टेकराम साहू, गजानंद साहू, ओंकेश्वर, रामकुमार कौशल ने कहा कि देवपुर एनीकट से ग्राम सारंगपुरी, नवागांव, दरगहन, भरारी, सलोनी, भंवरमरा, लीलर गांव के लोग निस्तारी करते हैं। इतनी बारिश हुई इसके बावजूद यहां पानी नहीं है। देवपुर में मेला भी लगता है।

सोमवार को जिला किसान संघ के पदाधिकारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

पूर्व जपं धमतरी अध्यक्ष ने कहा- नेता जुट गए खदान में

कलेक्टोरेट पहुंचे पूर्व जनपद पंचायत धमतरी अध्यक्ष बिसहत राम साहू ने कहा कि नेता अब राजनीति छोड़कर रेत खदानों में जुट गए हैं। अतिरिक्त आय के चलते सफेद पोशनेता इसी धंधे में आकर मालामाल हो गए हैं। इधर पंचायत और प्रशासन भी रेत खदानों को चालू करने एनीकटों से पानी छोड़ रहे हैं, ताकि रेत की निकासी हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here