सीजन में 725 रुपए क्विंटल औसत भाव बिकी लहसुन के 20 रुपए क्विंटल दाम लगाने पर भड़के किसान

0
122

रतलाम | Sep 18, 2018

प्याज के बाद लहसुन के भाव गिरना शुरू हो गए है। सोमवार को लहसुन 20 रुपए प्रति क्विंटल बिकी तो किसान नाराज हो गए। उन्होंने प्याज एवं लहसुन मंडी का गेट बंद कर दिया। पुलिस के साथ तहसीलदार पहुंचे और किसानों को समझाया तब मामला शांत हुआ। इसके पहले एक घंटे हंगामा चलता रहा।

6500 बोरी आवक हुई। मंडी में लहसुन की आवक चार हजार कट्टे (प्रति बोरी 50 किलो) की रही। आवक ज्यादा होने से भाव गिर गए कुछ किसान की 20 तो कुछ किसानों की लहसुन 40 से 50 रुपए प्रति क्विंटल बिकी। किसान नाराज हो गए और शाम 5 बजे मंडी गेट पहुंच गए और गेट बंद कर हंगामा शुरू कर दिया। किसानों ने बताया लहसुन इतने कम दामों पर बिक रही है कि भाड़ा भी नहीं निकल पा रहा है। तीन से चार व्यापारी ही खरीदी कर रहे हैं। सब्जी मंडी प्रभारी राजेंद्र व्यास ने किसानों को समझाने के प्रयास किया। सूचना पर तहसीलदार विजय कुमार सोनी पहुंचे और किसानों को समझाया। इसके बाद व्यापारियों को बुलाकर चर्चा की तो व्यापारियों ने बताया हल्का माला आ रहा है और क्वालिटी भी अच्छी नहीं है। इससे लहसुन कम दामों पर बिक रही है। जबकि अच्छी क्वालिटी की लहसुन ऊंचे दामों पर बिक रही है। इसके बाद तहसीलदार मंडी परिसर में किसानों के साथ पहुंचे और जहां लहसुन का ढेर था उसका निरीक्षण किया। एक घंटे बाद मामला शांत हुआ। इस दौरान जाम भी लगा।

लहसुन-प्याज मंडी में हंगामे के दौरान किसानों को समझाते सब्जी मंडी प्रभारी व्यास।

इस सीजन में 725 रुपए रहे लहसुन के औसत भाव

आवक बढ़ने के साथ भाव गिरना शुरू हो गए है। लहसुन 20 से 1836 रुपए प्रति क्विंटल बिकी। औसत भाव 725 रुपए प्रति क्विंटल रहे।

तहसीलदार के प्रतिवेदन पर की जाएगी कार्रवाई

एसडीएम राहुल धोटे ने बताया मंडी में 20 रुपए क्विंटल लहसुन क्यों बिक रही थी, इस बारे में तहसीलदार से प्रतिवेदन मांगा है। इस आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। किसानों ने बताया कि लहसुन खरीदी के समय तीन व्यापारी ही मौके पर थे, इस पर भी प्रतिवेदन मांगा गया है। साथ ही आगे इस तरह की स्थिति नहीं बने इस पर मंगलवार को निर्णय लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here