समर्थन मूल्य पर बिक्री के पंजीयन की धीमी गति को बढ़ाएं, एक भी किसान वंचित न रहे: कलेक्टर

0
142

सागर | Sep 18, 2018

कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने सोमवार को टीएल बैठक में अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि सीएम हेल्पलाइन पर आने वाली प्रत्येक शिकायत का प्रमुखता से निराकरण करें। शिकायतकर्ता से बात कर उसकी समस्या का निदान करते हुए शिकायत को संतुष्टि के साथ बंद कराएं। विशेषकर 300 दिनों से लंबित सीएम हेल्पलाइन की समस्याओं का निराकरण तेजी से और प्रमुखता के साथ करें। जिससे आगामी होने वाली समाधान ऑनलाइन में प्रकरणों की जानकारी आसानी से दी जा सके।

कलेक्टर सिंह ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत 300 दिवस से ऊपर की लेवल-1 से लेकर लेवल-4 तक की समस्याओं का निदान किया जाए। साथ ही वर्तमान में कृषि विभाग, वित्त विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग की शिकायतों की संख्या काफी ज्यादा है। इन विभागों के अधिकारी तेजी से इनका निराकरण करें। खरीफ विपणन 2018-19 में समर्थन मूल्य पर धान के उपार्जन के लिए कृषकों के पंजीयन कार्य की प्रगति में कमी पाये जाने पर कलेक्टर ने असंतोष जताया।

उन्होंने विभाग के अधिकारियों को आपसी समन्वय के साथ प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए। साथ ही यह भी स्पष्ट किया कोई भी कृषक पंजीयन से वंचित नहीं रहना चाहिए। कलेक्टर ने भावांतर एवं कृषक समृद्वि के अंतर्गत जो बिल दोबारा लगे थे वह क्लियर हुए या नहीं, इसकी जानकारी भी ली। शासन द्वारा प्रदत्त योजनाओं में स्वीकृत लोन के बारे में विशेष ध्यान देने की बात भी उन्होंने कही। संबल योजना की जानकारी लेते हुए उन्होंने कहा कि जिन जनपदों में 30 प्रतिशत से अधिक लक्ष्य हासिल कर लिया है, वह अच्छा है। जहां कमी है, वहां तेजी लाएं। स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में डाटा सही कर प्रोग्रेस लाने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए। बैठक में अपर कलेक्टर तन्वी हुड्डा, सिटी मजिस्ट्रेट राजेंद्र सिंह, डिप्टी कलेक्टर शशि मिश्रा आदि मौजूद थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here